आरओ की मिलीभगत से चुनाव हराने का किया गया काम: अनवर - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, May 7, 2021

आरओ की मिलीभगत से चुनाव हराने का किया गया काम: अनवर

वैलिड मत पत्रों को जानबूझकर किया अनवैलिड 

मामले की जांच कराकर पुनः मतगणना कराये जाने की मांग 

 फतेहपुर, शमशाद खान । त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना में निष्पक्षता को लेकर लगातार हारे हुए प्रत्याशियों द्वारा उंगलियां उठायी जा रही हैं। बहुआ विकास खण्ड की ग्राम पंचायत पैनाखुर्द मजरे चकमीरापुर के प्रधान पद के उम्मीदवार रहे अनवर हुसैन का कहना रहा कि वह चुनाव जीत रहे थे लेकिन विपक्षी प्रत्याशी ने आरओ से मिलीभगत करके उन्हें चुनाव हरवाने का काम किया है। उन्होने वैलिड मत पत्रों को अनवैलिड कराये जाने का आरोप मढ़ा। उन्होने मामले की जांच कराकर पुनः मतगणना कराये जाने की मांग की है। 

पत्रकारों से बातचीत करते अनवर हुसैन।

शुक्रवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए ग्राम पंचायत पैनाखुर्द मजरे चकमीरापुर से प्रधानी का चुनाव लड़ने वाले अनवर हुसैन ने कहा कि उन्होने पंचायत चुनाव में पैनाखुर्द से प्रधान पद के लिए नामांकन किया था। उनको अनाज ओसाता किसान चुनाव चिन्ह मिला था। गांव में प्रधान पद में कुल 1290 मत पड़े थे। जिसमें पैनाखुर्द प्राथमिक पाठशाला में 591 व चकमीरापुर पंचायत भवन दो बूथ में कुल 699 मत पड़े थे। उनके डिब्बा संख्या 55 में 56 वोट एवं डिब्बा संख्या 56 में 19 व डिब्बा सं0 57 में 285 वोट व कुल 33 वोट डिब्बा संख्या 55, 56, 57 के 33 मत पत्रों को इनवैलिड कर दिया गया। उन्होने आरोप लगाया कि चुनाव चिन्ह के मत पत्रों को गणना के दौरान मेज के नीचे डाल दिया गया जिन्हें गिनती में शामिल नहीं किया। बताया कि अरविन्द पाल से नाजायज लाभ प्राप्त करके उसके मत पत्रों की एक गड्डी को चकमा देकर पुनः मतगणना में शामिल किया गया। उसके बार-बार कहने पर उसके मत पत्रों की पुनः मतगणना नहीं की गयी। हो-हल्ला करके राजनैतिक दबाव में भाजपाईयों के कहने पर अरविन्द पाल को विजयी घोषित करा दिया गया। उन्होने जिला प्रशासन से मांग किया कि मामले की जांच कराकर पुनः मतगणना कराकर इनवैलिड किये गये मत पत्रों को भी जांच के दायरे में लिया जाये। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages