कहीं कोरोना का हब न बन जाये रोडवेज बसें - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, April 22, 2021

कहीं कोरोना का हब न बन जाये रोडवेज बसें

कोविड गाइडलाइन की खुलेआम उड़ाई जा रही धज्जियां 

निर्धारित संख्या से अधिक सवारियां बैठाकर फर्राटा भर रही बसें 

फतेहपुर, शमशाद खान । वैश्विक महामारी कोरोना को फैलने से रोकने के लिए शासन द्वारा तमाम प्रयास किये जा रहे हैं। जिला प्रशासन को निर्देश दिये गये हैं कि सामूहिक कार्यक्रमों में जहां सौ व्यक्तियों से ज्यादा को अनुमति नहीं दी जायेगी वहीं रोडवेज बसों में निर्धारित संख्या से पचास प्रतिशत ही सवारी बैठायी जाये। इसके उलट कोविड गाइडलाइन की रोडवेज बसों में खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। निर्धारित संख्या से अधिक सवारियां बैठाकर सड़कों पर फर्राटा भर रही हैं। कहीं रोडवेज बसें कोरोना का हब न बन जाये। 

बताते चलें कि कोरोना महामारी को फैलने से रोकने के लिए शासन द्वारा जिला प्रशासन को निर्देश दिये गये हैं कि सामूहिक कार्यक्रमों में सिर्फ पचास से सौ व्यक्तियों को ही अनुमति दी जाये। धार्मिक कार्यक्रमों पर पूर्णतः रोक रहेगी। साथ ही बाजार व माल्स में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाये। सभी व्यक्ति मास्क अवश्य लगायें। मास्क न लगाने वालों पर एक हजार और दोबारा पकड़े जाने पर दस हजार रूपये का जुर्माना किया जाये। जिला

रोडवेज बस में निर्धारित क्षमता में बैठी सवारियां।

प्रशासन द्वारा भी लगातार लोगों को इन निर्देशों के बाबत जागरूक करने का काम किया जा रहा है लेकिन राजकीय परिवहन निगम की बसों में यह नियम नहीं लागू हो रहे हैं। जबकि एआरएम को निर्देशित किया गया था कि बसों में निर्धारित संख्या से पचास प्रतिशत सवारी ही बैठायी जाये और प्रत्येक सवारी मास्क अवश्य लगाये। साथ ही बसों को प्रतिदिन सेनेटाइज भी किया जाये। निर्देशों पर अमल करना तो दूर हालात पहले से भी बदतर हैं। गैर प्रान्तों से आने वाले प्रवासी मजदूरों के साथ-साथ प्रतिदिन आने-जाने वाले यात्रियों की संख्या इन दिनों बढ़ गयी है। बसों में हालात यह है कि निर्धारित संख्या से ज्यादा सवारियां बैठकर यात्रा कर रही हैं। चालक व परिचालक बिना मास्क लगाकर बसों में सवार रहते हैं। जबकि कोरोना वायरस की रफ्तार दिनों दिन तेज होती जा रही है। अगर हालात यही रहे तो यह रोडवेज बसें कोरोना का हब बनकर सामने आयेंगी और मरीजों की संख्या में इजाफा हो जायेगा। इस पर तत्काल अंकुश लगाया जाना चाहिए। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages