श्रीराम का चरित्र अपनाने से जीवन होगा सफल: दीनबंधु - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, April 17, 2021

श्रीराम का चरित्र अपनाने से जीवन होगा सफल: दीनबंधु

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। श्री रघुवीर मंदिर ट्रस्ट बडीगुफा जानकीकुण्ड में चैत्र रामनवमीं से चल रही वर्चुअल रामकथा के पाॅचवें दिन कथा वाचक दीनबंधु दास महाराज ने बताया कि ईमानदारी से रामकथा सुनने मात्र से मनुष्य का हृदय करूण हो जाता है। सब दुख दूर हो जाते हैं। स्वयं माता जानकी के सभी दुख रामकथा के श्रवण से दूर हो गये। इस हृदय प्रिय कथा का प्रभाव ऐंसा है कि यह सब को मोहित कर देती है। उन्होने बताया कि जिसने अपने जीवन में राम जी के चरित्र को अपना लिया। उसका मनुष्य जीवन सफल हो जाता है। मनुष्य भगवान का नाम कैसे भी ले। उसका कल्याण ही होता है। बस हृदय सच्चा होना चाहिये। हरि का नाम हर परिस्थिति में लिया जा सकता है। रामनाम

कथा वाचक दीनबंधु दास।

का स्वाद जिसे मिल जाता है उसे इस संसार में कुछ और नहीं भाता। भगवान के अनन्त नामों में रामनाम ही सबसे सरल एवं हजारों भजन के बराबर है। महाराज ने कहा कि मनुष्य यदि परमात्मा अपमान कर दे तो उसका कुछ नहीं बिगडेगा, लेकिन यदि साधु का अपमान कर दिया तो मनुष्य अपने सारे पुण्य खो देता है, क्योंकि साधु जब अपमानित होकर जाता है तो वह मानव के जीवन के सारे पुण्य लेकर जाता है। रामायण का उदाहरण देते हुये बताया कि रावण ने जैसे ही विभीषण जैसे संत को अपमानित कर लंका से बाहर कर दिया तभी से उसका बुरा वक्त शुरु हो गया। भगवान अपना तिरस्कार सहन कर सकते हैं, लेकिन अपने भक्त का तिरस्कार सहन नहीं कर सकते। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages