पेयजल संकट से ग्रामीणों में त्राहि-त्राहि - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, April 25, 2021

पेयजल संकट से ग्रामीणों में त्राहि-त्राहि

चोहड़े, कूप, तालाब सूखे, हैंडपंपो ने दिए जवाब’

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। पाठा क्षेत्र के कूप, तालाब, हैंडपंप आदि के जवाब देने के चलते ग्रामवासियों को इन दिनों पीने का पानी नसीब नही हो पा रहा है। ग्रामीण पेयजल के लिए तरस रहे है। शासन प्रशासन जलापूर्ति के लिए हर वर्ष टैंकरों के माध्यम से ग्रामीण जनता की जरूरतें पूरी करती रही है, लेकिन इस वर्ष कोई इंतजाम नही किये गए है। जिससे लोग प्यास से ब्याकुल है।

पेयजल को लाइन में खड़े ग्रामीण।

ऊँचाडीह ग्राम में शारदा प्रसाद श्रीवास के घर के पास एक हैण्डपम्प में कुछ समय पहले सबमर्सिबल पम्प डाल कर गाँववासियो को पेयजल आपूर्ति हो जाती रही है, लेकिन एक सप्ताह पूर्व स्टार्टर जल जाने के चलते ग्रामवासी काफी ज्यादा परेशान है। ग्रामीण शारदा प्रसाद, नन्ही लाल, शुरेश चंद्र गुप्ता, चंद्र प्रकाश, महेंद्र प्रसाद आदि लोगो ने बताया कि खंड विकास अधिकारी शुनील सिंह को 18 अप्रैल को जानकारी दी गयी थी और उनके द्वारा आश्वासन भी दिया गया, लेकिन आज तक कोई देखने तक नही आया। इसी तरह मऊ गुरदरी में भीषण पेयजल संकट है। गाँव की जनता कोई भी किसी विभाग का यदि गाँव पहुँच जाता है तो उनसे पीने की पानी की समस्या बताने से नही चूकते है। इस भीषण गर्मी में प्यास से ग्रामवासी त्रस्त है। शासन प्रशासन की ओर से ग्रामीणों को पेयजल आपूर्ति का कोई बंदोबस्त नही किया गया है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages