चौपाल लगाकर गांव के विकास के लिए प्रत्याशी का मंथन कर रहे ग्रामीण - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, April 12, 2021

चौपाल लगाकर गांव के विकास के लिए प्रत्याशी का मंथन कर रहे ग्रामीण

फतेहपुर, शमशाद खान । त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का बिगुल बजने के साथ ही गांव-गांव चैपालें लगना शुरू हो गयी हैं। जिले में जहां तेरह अप्रैल से नामांकन प्रक्रिया शुरू हो रही है वहीं छब्बीस अप्रैल को मतदान कराया जायेगा। गांव के विकास के लिए प्रत्याशी का चयन करने की खातिर ग्रामीणों ने भी मंथन करना शुरू कर दिया है। धार्मिक स्थलों के साथ-साथ अन्य सार्वजनिक स्थानों पर ग्रामीणों ने चैपाल लगाकर यह सुनिश्चित करना शुरू कर दिया है कि इस चुनाव मंे किसको सपोर्ट किया जाये। कौन प्रत्याशी गांव के विकास के लिए अच्छा साबित होगा। 

बताते चलें कि गांव की सरकार बनाने के लिए ग्रामीण बेताब नजर आ रहे हैं। ग्राम पंचायत चुनाव से लेकर जिला पंचायत चुनाव तक ग्रामीणों की भूमिका अहम रहेगी। उधर प्रत्याशी भी ग्रामीणों को रिझाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं। दारू, मुर्गा के साथ-साथ अन्य प्रलोभन देकर ग्रामीणों को अपने पाले में करने में जुटे हुए हैं। उधर गांव के कुछ संभ्रान्त नागरिकों ने एक अच्छी पहल शुरू करते हुए चैपाल लगाकर प्रत्याशियों का मंथन शुरू कर दिया

सिधांव व शाह में चैपाल लगाकर चुनावी रणनीति बनाते ग्रामीण।

है। प्रत्याशियों द्वारा भी अपने-अपने चुनाव प्रचार अभियान में बड़े-बड़े वादे ग्रामीणों से किये जा रहे हैं। सबसे अधिक ग्राम पंचायतों में पेयजल, बिजली, सड़क समेत अन्य मूलभूत समस्याएं मुंह बाये खड़ी हैं। इनको अपना चुनावी एजेण्डा बनाकर प्रत्याशी ग्रामीणों से वादे कर रहे हैं कि अगर वह चुनाव जीते तो गांव की सड़कें लकालक होंगी। पेयजल की समस्या को दूर करने के लिए वह हैण्डपम्पों को लगवायेंगे और बिजली की किल्लत दूर करने के लिए वह जद्दोजहद करेंगे। प्रत्याशियों के इन वादों में कितनी सच्चाई यह यह तो आने वाला समय ही बतायेगा लेकिन ग्रामीणों ने भी यह तय कर लिया है कि इस बार साफ-सुथरी छवि वाले प्रत्याशी को ही गांव की बागडोर सौंपी जाये। रविवार को ऐसा ही कुछ नजारा सामने आया जब बहुआ विकास खण्ड की शाह व सिधांव ग्राम पंचायत में ग्रामीणों ने चैपाल लगाकर प्रत्याशियों का मंथन शुरू किया। इस चैपाल में बड़ी संख्या में संभ्रांत व्यक्ति शामिल रहे। शाह गांव मंे मस्जिद के बाहर व सिधांव में एक मंदिर परिसर में लोगो ने बैठकर प्रत्याशी को लेकर आपस में चर्चा की। ग्रामीणों का कहना रहा कि साफ-सुथरी छवि वाले प्रत्याशी को ही इस बार चुनाव में जितायेंगे। जिससे गांव का विकास हो सके। सबसे प्रमुख बात यह है कि चुनाव में खड़े प्रत्याशियों में यह तय किया जायेगा कि कौन प्रत्याशी सबसे अधिक समाजसेवा के क्षेत्र से जुड़ा रहा और शिक्षा को सबसे अधिक महत्व दिया जायेगा। जिले की अन्य ग्राम पंचायतों में भी यह नजारा देखने को मिल रहा है। इस बार ग्राम पंचायत से लेकर जिला पंचायत तक का चुनाव बेहद रोचक होगा। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages