घरों पर पूजा-अर्चना कर महावीर स्वामी की मनाई जयन्ती - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, April 25, 2021

घरों पर पूजा-अर्चना कर महावीर स्वामी की मनाई जयन्ती

रंगोली से सजाये गये घरों के द्वार, छत पर लगायी धर्म ध्वजा 

फतेहपुर, शमशाद खान । वैश्विक महामारी कोरोना के बीच जैन धर्म के शासन नायक भगवान महावीर स्वामी की जयन्ती कोविड गाइडलाइन के अनुसार घरों पर मनाई गयी। जैन समाज के लोगों का उत्साह देखते ही बना। सभी ने घरों के द्वार को जहां रंगोली से सजाया वहीं छतों पर धर्म ध्वजा फहरायी। घरों पर पूजा-अर्चना के साथ हवन आदि का आयोजन कर मंगल कार्यक्रम हुए। 

घर पर पूजा-अर्चना करते जैन समुदाय के लोग।

सुबह से ही घर के द्वार को रंगोली से सजाया गया। छत पर धर्म ध्वजा लगाई गई। इसके बाद महावीराष्टक का पाठ, नवकार महामंत्र का जाप, मंगल कलश की स्थापना कर पूजन विधान हुआ। लोगोें ने शाम के समय सपरिवार घंटी, वाद्ययंत्र, थाली आदि बजाते हुये भगवान महावीर जन्मकल्याणक की खुशियां मनायी तथा मंगल दीपकों के साथ भगवान महावीर स्वामी को पालना में झुलाते हुए उनकी मंगल आरती उतारी गई। बताया गया कि भगवान महावीर का जन्म 599 ईपू में वैशाली नगर के कुंडलग्राम में ईश्वाकू वंश के राजा सिद्धार्थ के घर माता त्रिशला की कोख से चैत्र शुक्ल तेरस को हुआ था। उनके बचपन का नाम वर्धमान था तीस वर्ष की आयु में उन्होंने संसारिक सुखों से विरक्त होकर राज वैभव त्याग दिया और संन्यास धारण कर आत्मकल्याण के पथ पर निकल गये। 12 वर्षो की कठिन तपस्या के बाद उन्हें केवल ज्ञान प्राप्त हुआ जिसके पश्चात उन्होंने समवशरण में ज्ञान प्रसारित किया। 72 वर्ष की आयु में उन्होंने पावापुरी में अपना शरीर छोडा। भगवान महावीर ने जियो और जीने दो का संदेश देने के साथ ही दुनिया को सत्य, अहिंसा का पाठ पढ़ाया। तीर्थंकर महावीर स्वामी ने अहिंसा को सबसे उच्चतम नैतिक गुण बताने के साथ ही दुनिया को जैन धर्म के पंचशील सिद्धांत बताए। भगवान महावीर की जयंती को जैन धर्मावलंबी अंहिसा दिवस के रूप में भी मनाते है, दिन भर कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। साथ ही कोरोना का कहर दुनिया से समाप्त करने के लिए विशेष हवन के साथ प्रार्थना की गई। इस मौके पर आनंद जैन, नरेंद्र जैन, देवेंद्र जैन, दीपक जैन, पप्पू जैन आदि के घरों पर ही पूजन का आयोजन किया गया।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages