उद्योगपति अतहर सिद्दीकी के निधन से शोक की लहर - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, April 26, 2021

उद्योगपति अतहर सिद्दीकी के निधन से शोक की लहर

हथगाम-फतेहपुर, शमशाद खान । साहित्यिक गतिविधियों में अग्रणी रहे समाजसेवी एवं उद्योगपति मोहम्मद अतहर सिद्दीकी के निधन पर उनके गांव तेल्हइया सहित पूरे क्षेत्र में दुख की लहर दौड़ गई है। न जाने कितने परिवारों को उन्होंने खुशहाल बनाया। जिसमें गैर मुस्लिम भाई भी बड़ी संख्या में हैं।

तेल्हइया हथगाम के मूल निवासी मोहम्मद अतहर सिद्दीकी न केवल एक सफल व्यवसाई रहे बल्कि उन्होंने अदब, साहित्य, कवि सम्मेलन मुशायरा के माध्यम से जनपद एवं हथगाम क्षेत्र को पूरी दुनिया तक पहुंचाया। वे कुछ दिन

उद्योगपति अतहर सिद्दीकी। फाइल फोटो

पहले अपने गांव आए थे और मुंबई लौटते समय मामूली तौर पर बीमार थे। उनके निधन से साहित्य जगत को भारी नुकसान हुआ है। उन्होंने हथगाम के कवि सम्मेलन मुशायरा को अंतर्राष्ट्रीय पहचान दी और फतेहपुर में देश का सबसे बड़ा मुशायरा कराकर जनपद को दूर-दूर तक पहुंचाया। उन्होंने लॉकडाउन के दौरान मुंबई से लेकर फतेहपुर तक जनसेवा की एक मिसाल कायम की थी। आज वे अपनी जिंदगी से खुद हार गए। श्री सिद्दीकी ने क्षेत्र के तमाम हिंदू मुस्लिम युवाओं को विदेश में कारोबार और नौकरी दिलाई। वे जनपद की जानी-मानी हस्तियों में शामिल रहे। मो0 अतहर सिद्दीकी के आकस्मिक निधन पर क्षेत्र के कवियों एवं शायरों ने शोक व्यक्त करते हुए उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि दी है। जाने-माने कवि एवं शायर शिव शरण बंधु के आवास पर साहित्यकारों ने बैठक कर उनके निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया। बैठक में शायर डॉक्टर वारिस अंसारी, शिवम हथगामी, समीर शुक्ला, अनुज साहू शम्स, जीशान फतेहपुरी, नीलेश मौर्य निडर, शैदा मुआरवी, सफी हंबल, हामिद रजा, विजय हथगामी आदि रचनाकार शामिल हुए।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages