निगरानी समिति से शहर-गांवों में कराएं जांच: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, April 13, 2021

निगरानी समिति से शहर-गांवों में कराएं जांच: डीएम

लाकडाउन के समय की व्यवस्थाएं करने के दिए निर्देश

सर्विलांस टीमें करें कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग: एसपी

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल, पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल की उपस्थिति में कलेक्ट्रेट सभागार में कोविड-19 महामारी के रोकथाम एवं बचाव से संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक संपन्न हुई।

जिलाधिकारी ने कहा कि सर्विलांस टीम को सक्रिय किया जाए। बाजार में सेनेटाइजर व दवा का छिड़काव, सफाई, मंडी समिति में व्यापारियों के साथ, सब्जी मंडी सीतापुर, कर्वी के व्यापारियों के साथ बैठक करें। गांव तथा शहर में गठित निगरानी समिति को सक्रिय कर हाउस टू हाउस सर्वे कराया जाए। ताकि पता चल सके कि किस गांव में मरीजों की संख्या बढ़ी है। जिससे कार्यवाही की जाए। एंबुलेंस के संचालन को बढ़ाएं। पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम लागू कर प्रचार प्रसार हो। 45 वर्ष से ऊपर के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए जागरूक करें। तहसीलवार गांव में कंटेनमेंट जोन बन रहे हैं। वहां पर खाद्य सामग्री, सब्जी, दूध की होम डिलीवरी शुरू कराई जाए। उप जिलाधिकारी

बैठक में निर्देश देते डीएम।

कर्वी रामप्रकाश को निर्देश दिया कि पूरे शहर में सैनिटाइज दवाओं आदि का छिड़काव करें। रामघाट के क्षेत्र में विशेष ध्यान दें। मानिकपुर, राजापुर में भी योजना बनाएं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि अग्निशमन अधिकारी को भी दवा आदि उपलब्ध करा दें। ताकि वह भी गांव में छिड़काव का कार्य कराए। कोविड अस्पताल खोह पर भी सभी व्यवस्थाएं रहे। चिकित्सकों की उपस्थिति व दवाओं की उपलब्धता रखें। खांसी, जुकाम, बुखार के मरीजों का शत प्रतिशत आरटी पीसीआर व रैपिड एंटीजन टेस्ट अवश्य कराया जाए। शहर व गांव में जो निगरानी समिति गठित है उन्हें सक्रिय करें। व्यापार मंडल के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर ले। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन, मास्क का लोग प्रयोग अवश्य करें। स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाए।

पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल ने कहा कि एक सप्ताह से कोविड-19 के मरीज अधिक बढ़ रहे हैं। अधिक से अधिक लोगों का वैक्सीनेशन कराया जाए। बाहर से आने जाने वाले व्यक्तियों को बस स्टॉप, रेलवे स्टेशनों पर जांच अवश्य हो। जहां पर ज्यादा मरीज निकल रहे हैं उस क्षेत्र में बाहर से आने जाने वाले लोगों पर विशेष निगाह रखें। कंटेनमेंट जोन बनाकर व्यवस्था सुनिश्चित कराएं। सर्विलांस टीम के माध्यम से कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग कराएं। 45 वर्ष से ऊपर के जो लोग हैं उन्हें आशा एएनएम चिन्हित कर नजदीकी स्वास्थ्य केंद्रों पर वैक्सीनेशन कराएं। होम आइसोलेशन में मरीज है उनके परिवार व अगल-बगल के घरों के लोगों का भी कांट्रैक्ट ट्रेसिंग कराया जाए। मारीज संक्रमित पाए गए हैं उस गांव में निगरानी समिति के सदस्यों को अवगत कराया जाए। ताकि जो उस व्यक्ति के संपर्क में लोग आए हैं उन्हें भी चिन्हित कर टेस्टिंग अवश्य कराएं। शासन से गाइड लाइन दी गई है उसी के अनुसार अनुपालन सुनिश्चित कराया जाए। कहा कि गत वर्ष कोविड-19 के दौरान लॉकडाउन के समय जो व्यवस्थाएं की गई थी उसी के अनुसार व्यवस्था करें। स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सक व अधिकारीध् कर्मचारियों को बचा कर रखें। पीपीटी किट अवश्य पहनें। फैसिलिटी सेंटर पर बिना पीपीटी किट के न रहे। सभी शासकीय कार्यालयों पर सैनिटाइज कराया जाए। उसके लिए एक रोस्टर बने। उप जिलाधिकारी से कहा कि पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम को भी मुख्य चैराहों पर व्यवस्था कराएं तथा वाहनों के माध्यम से भी मुख्य शहर की गलियों में जाकर लोगों को जागरूक करें। नगर क्षेत्र कर्वी, मानिकपुर तथा राजापुर में बिना मास्क लगाए लोगों का अधिक से अधिक चालान कराया जाए। कहा कि जो यह चार दिन का महोत्सव चल रहा है इसमें आज से ही वैक्सीनेशन पर प्रगति कराएं। ताकि जनपद के निर्धारित लक्ष्य को पूर्ण कराया जा सके। उन्होंने कंट्रोल रूम के अधिकारियों, कर्मचारियों को निर्देश दिए कि जो सूची ग्राम और शहर की निगरानी समिति की है वहां पर गांव से आए व्यक्तियों की जानकारी दूरभाष के माध्यम से करें तथा जो संक्रमित व्यक्ति हैं वह आइसोलेशन में है उनसे भी स्वास्थ्य आदि के बारे में जानकारी अवश्य की जाए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि आरआरटी की व्यवस्था कराएं। मैन पावर को बढ़ाया जाए। जो मरीज गंभीर बीमार हो तो उसे कोविड-19 सेंटर में भर्ती कराया जाए। होम आइसोलेशन में भर्ती मरीजों से कंट्रोल रूम से वार्ता प्रतिदिन कर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी करें। एंबुलेंस के संचालन का समय ठीक कराया जाए। फैसिलिटी सेंटर में जो मरीज भर्ती हैं वहां पर चिकित्सक, दवा, सफाई, खाना पानी आदि व्यवस्थाएं अच्छी तरीके से रहे। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, उप जिलाधिकारी कर्वी रामप्रकाश, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ आरके गुप्ता, जिला पंचायत राज अधिकारी राजबहादुर सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages