सदका, खैरात व जकात की रकम से मोहताजों की करें मदद - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, April 27, 2021

सदका, खैरात व जकात की रकम से मोहताजों की करें मदद

 फतेहपुर, शमशाद खान । काजी शहर फरीद उद्दीन कादरी ने कहा कि रमजानुल मुबारक रहमतों व बरकतों वाला महीना है। जिसमें एक फर्ज का सवाब 70 फर्ज के सवाब के बराबर मिलता है। मुसलामानों को चाहिए कि इस माह में ज्यादा से ज्यादा सदका, खैरात व जकात भी अदा करें। इस रकम से मोहताजों व गरीबों की मदद करें। 

काजी शहर फरीद उद्दीन कादरी।

काजी शहर कारी फरीद उद्दीन कादरी ने कहा कि हर साहिबे निसाब पर सदका ए फित्र वाजिब है। सदका ए फित्र 2 किलों 45 ग्राम गेहूं या उसके आटे के हिसाब से देना वाजिब है। सदका ए फित्र इस वक्त मौजूदा रेट के एतबार से 45 रुपया प्रति व्यक्ति रखा गया है। सदका ए फित्र अपनी बीवी बच्चों कीं तरफ से और जो केफालत में हो उसकी तरफ से भी अदा करना वाजिब है। इस सदका ए फित्र की रकम को बेवाओं, यतीमों, गरीबों, परेशान हाल लोगों तक पहुंचाया जाए। काजी शहर श्री कादरी ने कहा कि सदका ए फित्र न अदा करने वाले के रोजे व नमाज जमीन व आसमान के दरमियान ही रहते हैं। अल्लाह तआला उन्हें कुबूल नहीं करता इसलिए नमाज व रोजा के सवाब को पाने के लिए जरूरी है कि ईद उल फित्र से पहले गरीबों व मिसकीनों का ये हक अदा किया जाए।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages