स्वतंत्रता संग्राम सेनानी का स्वर्गवास - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, April 13, 2021

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी का स्वर्गवास

97 वर्ष के थे पं भुवनेश्वर प्रसाद शुक्ला, पुलिस जवानों ने दिया गार्ड आफ आनर

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। मऊ कस्बा निवासी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी 97 वर्षीय भुवनेश्वर प्रसाद शुक्ल पंचतत्व में विलीन हो गए। नाबालिग अवस्था से ही स्वतंत्रता आंदोलन, भारत छोड़ो आंदोलन में अंग्रेजो के खिलाफ समर में कूद गए थे। 1936-37 में बस्ती जनपद की जेल में भेज दिया गया था। बालिग होने पर उन्हें पुनः बांदा जेल भेजा गया। लगभग 27 महीने जेल की कड़ी यातना झेली। बावजूद इसके भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के प्रति इनका झुकाव कम

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व भुवनेश्वर प्रसाद शुक्ला।

नहीं हुआ। 1947 में हिंदुस्तान जब स्वतंत्र हुआ तो इन्हें प्रदेश सरकार ने पंचायत सचिव की नौकरी दी। बाद में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी की लिस्ट में शामिल कर इन्हें आजीवन सम्मान व पेंशन दिया गया। उनके निधन से जनपद में शोक की लहर है। उप  जिलाधिकारी नवदीप शुक्ल, क्षेत्राधिकारी सुबोध गौतम, कोतवाल गुलाब त्रिपाठी सहित पुलिस जवानों ने गार्ड आफ आनर दिया है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages