देश चंद पूंजीपतियों के हाथ गिरवी- गिरीश - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, February 27, 2021

देश चंद पूंजीपतियों के हाथ गिरवी- गिरीश

कृषि कानून लागू हुए तो बर्बाद हो जाएंगे किसान- स्वरूप

खागा-फतेहपुर, शमशाद खान । नगर के एक निजी गेस्ट हाउस में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की जनरल बॉडी की बैठक एवं कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित हुआ जिसमें उत्तर प्रदेश के सचिव मौजूद रहे और उन्होंने जन विरोधी भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान किया।

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के स्टेट सेक्रेटरी डॉ गिरीश ने कहा कि कोरोना महामारी की आड़ में सरकार ने न केवल मजदूरों को तबाह कर दिया बल्कि भाजपा सरकार ने जमकर लूट भी की। सरकार ने कोरोना के नाम पर लोगों को खोखला कर दिया। उन्होंने कहा कि जो हक की आवाज उठाता है उसका भाजपा सरकार मजाक उड़ाती है। आज पूरे देश का किसान आंदोलित है। तीनों कानूनों के माध्यम से किसानों को खेत मजदूर बनाने की साजिश है। हालत

सम्मेलन को सम्बोधित करते स्टेट सेक्रेटरी डा0 गिरीश।

यह है कि कानून के पहले ही अंबानी और अडानी को एग्रीकल्चर का रजिस्ट्रेशन कर दिया गया और गोदाम बनवा दिए गए। डॉ गिरीश ने कहा कि वक्त आ गया है कि भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी और उसके संगठन गांव-गांव जाकर संगठन को मजबूत करें। सरकार किसान, मजदूर, नौजवान सभी को बर्बाद कर रही है। मंडी बंद की जा रही हैं। किसानों को इतना कर्जदार बना दिया जाएगा कि वह अपनी खेती में ही मजदूर बनकर रह जाएगा और अडानी-अंबानी सारी खेती बारी अपने कब्जे में कर लेंगे। किसानों की यह लड़ाई इसी मुद्दे पर है। कामरेड गिरीश ने कहा कि पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस खरीदना अब आम आदमी के बस में नहीं होगा। बहुत से मध्यवर्गीय तो अब चूल्हे की ओर लौट रहे हैं। प्रदेश में प्रतिदिन लगभग 20 बच्चियों के साथ अमानवीय व्यवहार हो रहा है और प्रदेश के मुख्यमंत्री सदन के अंदर गुंडों ऐसी भाषा बोल रहे हैं जैसे विपक्ष को बोलने का कोई अधिकार ही नहीं रह गया है। उन्होंने कहा कि 14 सौ करोड़ रुपए मंदिर निर्माण के लिए पड़ा हुआ है। इसके बाद भी चंदा वसूला जा रहा है। कांग्रेस व समाजवादी पार्टी के नेता भी गरीबों की मदद करने की बजाय मंदिर निर्माण के लिए चंदा दे रहे हैं। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के प्रांतीय नेता अरविंद राज स्वरूप ने कहा कि जिन लोगों ने आजादी की लड़ाई में कभी भाग नहीं लिया, वे आज जनता के अधिकारों को लूट रहे हैं। सरदार पटेल स्टेडियम का नाम बदलकर नरेंद्र मोदी किए जाने की तीखी आलोचना करते हुए कामरेड स्वरूप ने कहा कि अब मोदी के जाने का वक्त आ रहा है। इस मौके पर राष्ट्रीय परिषद के सदस्य मोतीलाल एडवोकेट, नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष राम अवतार सिंह, राम सजीवन सिंह, सुमन सिंह चैहान, राधेरमण पांडेय, राकेश प्रजापति, कामरेड रामचंद्र, कामरेड जगदेव, शिव सिंह यादव सहित अनेक वामपंथी नेता मौजूद रहे। संचालन कामरेड रामप्रकाश ने किया।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages