रस्मे चिरागां के साथ मिस्कीन शाह वारसी का उर्स सम्पन्न - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, February 17, 2021

रस्मे चिरागां के साथ मिस्कीन शाह वारसी का उर्स सम्पन्न

बांदा, के एस दुबे । बसंत पंचमी के खास मौके पर होने वाला तीन दिवसीय मिस्कीन शाह वारसी का उर्स बुधवार की सुबह रस्मे चिरागां के साथ संपन्न हो गया। उर्स के मौके पर दरगाह में हिन्दू मुस्लिम दोनो ही धर्मो के मानने वालों ने दरगाह में पहुंच कर चादर चढ़ाई मन्नतें मांगी फातेहा पढ़ी। आपसी सौहार्द की मिसाल नरैनी रोड स्थित मिस्कीन शाह वारसी की दरगाह में पिछले तीन दिन से उर्स का आयोजन चल रहा था। उर्स में देश भर से अकीदतमंद दरगाह में जियारत करने पहुंचे उर्स के तीसरे दिन बसंत पंचमी के दिन दरगाह में मेला लगा दरगाह में अकीदत मन्दों की भीड़ जियारत करने पहुंची सारा दिन दरगाह में मेला लगा रहा हिन्दू मुस्लिम दोनो ही धर्मो के मानने वाले अकीदत श्रद्धालुओं ने दरगाह में चादर चढ़ाई मन्नतें मांगी।

रस्मे चिरागां में शामिल अकीदतमंद

रात में दरगाह परिसर में खानकाही कव्वालियों की महफिल सजी सुबह चार बज कर तेरह मिनट पर हजरत वारिस अली शाह देवा शरीफ की कुल शरीफ विशेष फातेहा हुई इस फातेहा में एहरामपोश तगय्युर शाह वारसी के साथ सैकड़ों अकीदत मन्दों ने फातेहा पढ़ी और दुआ मांगी।फजिर की नमाज के बाद दरगाह परिसर में चिरागाँ जुलूस उठाया गया ये चिरागां जुलूस हिंदुस्तान की इसी दरगाह में ही उठाया जाता है इसे देखने के लिए अकीदत मंद दूर दूर से यहां आते हैं इस चिरागाँ जुलूस में विशेष भाषा में कव्वाली गाई जाती है दरगाह परिसर में कव्वालों की विशेष कव्वाली के साथ चिरागाँ कि रस्म अदा हुई और फातेहा पढ़ी गई और तबर्रुक प्रसाद वितरण किया गया इसी के साथ तीन दिवसीय मिस्कीन शाह वारसी के उर्स का समापन्न हो गया। इस उर्स के मौके पर एहरामपोश बेनजीर शाह लखनऊ, अजमल शाह बांदा, इकबाल शाह बिंदकी, मुनव्वर शाह बांदा, सूफी साबिर पूना, तगय्युर शाह कानपुर, बेमिसाल शाह आगरा अजमल शाह उर्फ मुन्ना बाबा खादिम दरगाह के अलावा सैकड़ों अकीदत मंद शामिल हुए अंत मे दरगाह के मुतवल्ली निजामुद्दीन फारूकी ने सभी आये हुए महमानों का शुक्रिया अदा किया। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages