गलत फीडिंग पर जिलाधिकारी ने जताई नाराजगी - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, February 9, 2021

गलत फीडिंग पर जिलाधिकारी ने जताई नाराजगी

पोर्टल पर फीडिंग से पूर्व खुद चेक करें अधिकारी 

सर्किट हाउस में डीएम ने ली मासिक विकास कार्यों की बैठक 

बांदा, के एस दुबे । सर्किट हाउस में मंगलवार को जिलाधिकारी आनंद कुमार सिंह ने विकास कार्यों की मासिक समीक्षा बैठक ली। बैठक में जिलाधिकारी ने गलत फीडिंग पर नाराजगी जताई। डीएम ने निर्देश दिए कि पोर्टल पर फीडिंग से पूर्व सबंधित अधिकारी खुद चेक करें। इसके बाद अपने हस्ताक्षर से अपलोड कराएं। 

जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग में राजस्व वसूली कम पाये जाने पर तथा गलत फीडिंग पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि शासन के निर्देशानुसार राजस्व लक्ष्य की वसूली शत-प्रतिशत की जाए तथा सूचना पोर्टल पर अपलोड करने से पहले स्वयं अधिकारी के द्वारा चेक किया जाए। समीक्षा के दौरान विद्युत विभाग के झटपट पोर्टल पर 49 लम्बित प्रकरण तथा 02 डिफाल्टर पाये गये। शीघ्र निस्तारण के निर्देश तथा सूचना को तत्काल अपडेट करने के निर्देश अधिशासी अभियंता विद्युत को दिये।

सर्किट हाउस में बैठक को संबोधित करते जिलाधिकारी आनंद कुमार सिंह

पशु विभाग की समीक्षा करने के दौरान पशु चिकित्सा अधिकारी के द्वारा बताया गया कि 97.2 प्रतिशत जियो टैगिंग पूर्ण कर ली गयी है। जिलाधिकारी ने शत्-प्रतिशत् जियो टैगिंग पूर्ण करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने चिकित्सा विभाग की समीक्षा करते हुए 2018-19 में वेलनेस सेन्टर 30 का लक्ष्य था, जिसमें 29 पूर्ण कर लिये गये। 2019-20 में 44 के लक्ष्य के सापेक्ष 39 पूर्ण तथा 2020-21 में 71 का लक्ष्य जो कार्य प्रगति पर है। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि मैन पावर बढाकर कार्यों में प्रगति लायी जाए। पंचायती राज की समीक्षा करने के दौरान जिला पंचायत राज अधिकारी केे द्वारा बताया गया कि 471 ग्राम पंचायतों में सामुदायिक शौचालयों में से 358 निर्मित हो चुके हैं और शेष का कार्य शीघ्र पूर्ण कर लिया जायेगा। जिलाधिकारी के द्वारा निर्देशित किया गया कि सामुदायिक शौचालयों का संचालन जो स्वयं सहायता समूह रूचि रखता हो उनके माध्यम से संचालन कार्य कराया जाए तथा 471 ग्राम पंचायतों का फाइनेन्सियल स्टेटमेन्ट की सूची उपलब्ध कराई जाए। खाद्य एवं आपूर्ति की समीक्षा के दौरान 08 दुकानें रिक्त पाई गईं। जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देशित किया गया कि शीघ्र दुकानों का आवंटन कार्य प्रारंभ कराया जाए।

आपरेशन कायाकल्प के अन्तर्गत प्रगति कार्य कम पाए जाने पर जिलाधिकारी के द्वारा समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि ग्र्रामों का फाइनेन्सियल स्टेटमेन्ट चेक करें। यदि कोई समस्या हो तो शीघ्र अवगत कराएं। जिलाधिकारी ने कहा कि जिन विभागों की प्रगति रिपोर्ट सही नही है। उनका जवाब तलब किया जाए। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी हरिश्चन्द्र वर्मा, परियोजना निदेशक डीआरडीए आरपी मिश्रा, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एनडी शर्मा, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी एकेे बघेल, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सहित संबंधित विभाग के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages