कमेटी गठित कर पानी पंचायत के कराएं कार्यक्रम: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, February 6, 2021

कमेटी गठित कर पानी पंचायत के कराएं कार्यक्रम: डीएम

जिले में कौशल प्रशिक्षण केन्द्र, राजकीय इंटर कालेज में स्मार्ट क्लास की व्यवस्था के दिए निर्देश

नीति आयोग के सूचकांकों की समीक्षा बैठक संपन्न

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में नीति आयोग के सूचकांकों की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।

जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य, कृषि, शिक्षा, वित्तीय समावेशन, दूरभाष, बाल विकास, नगर निकाय, मंडी, कौशल विकास, सड़क, लघु सिंचाई, जल निगम, आजीविका मिशन आदि की बिंदुवार समीक्षा की। उन्होंने समस्त संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि नीति आयोग के जिन बिंदुओं पर प्रगति कम है उन्हें बढ़ाएं। ताकि जनपद की रैंकिंग में कमी न हो। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी से कहा कि जिला स्तर पर पानी पंचायत का गांववार कार्यक्रम कराया जाए। उसमें जो भी रेन वाटर हार्वेस्टिंग आदि के कार्य कराए गए हैं उनका प्रचार-प्रसार करें। भूगर्भ जल विभाग का भी सहयोग लें। इस कार्यक्रम में जिला पानी पंचायत, तहसील पानी पंचायत, ब्लॉक पानी पंचायत व ग्राम पानी पंचायत का कार्यक्रम कमेटी गठित करें। इसी प्रकार स्वच्छ जिला, तहसील, ब्लॉक, गांव, वार्ड

बैठक में निर्देश देते डीएम।

का भी कार्यक्रम जिला पंचायत राज अधिकारी के माध्यम से कराया जाए। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए विद्यालयों के ऑपरेशन कायाकल्प में जो कार्य कंपोजिट ग्रांट से कराया जाना है उन्हें तत्काल पूर्ण करा दें। मुख्य चिकित्सा अधिकारी तथा जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास से कहा कि जनपद स्तर पर एक संवाद कार्यक्रम कराए जाए उसमें एएनएम, आशा, आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों को शामिल करते हुए जिन कुपोषित बच्चों के परिवारों को दुधारू गाय दिया गया है उन्हें भी बुलाकर संवाद कराया जाए। कौशल विकास में समय से छात्रों को प्रशिक्षण दें। जनपद में प्रशिक्षण केंद्र स्थापित कराएं। उप निदेशक कृषि तथा अग्रणी जिला प्रबंधक इलाहाबाद बैंक को निर्देश दिए कि फसल बीमा योजना का लाभ कृषकों को अधिक से अधिक दिलाएं। एनपीए खातों को रेगुलर व जो किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ ले रहे हैं उन्हें जीवन ज्योति बीमा, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना का लाभ दिलाएं। जनधन खाता, आधार सीडिंग को अभियान चले। जिला उद्यान अधिकारी से कहा कि फलदार वृक्षों को बढ़ावा देने के लिए किसानों से संपर्क कर उद्यानीकरण को बढ़ाएं। किसानों के मध्य कार्यक्रम कर फलदार वृक्षों को अधिक से अधिक लगाकर किसानों की आय को दोगुनी कराया जाए। कहा कि पोषण पुनर्वास केंद्र, मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र निर्माण तथा एलईडी सिस्टम का भी प्रस्ताव बनाकर शामिल किया जाए। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से कहा कि जिला अस्पताल में जो चिकित्सक कार्य सही ढंग से न कर रहे हो तो उनके खिलाफ शासन को पत्र भेजें। जिला विद्यालय निरीक्षक से कहा कि राजकीय इंटर कॉलेज में स्मार्ट क्लास के लिए प्रस्ताव बनाकर उपलब्ध कराएं। पिरामल संस्था के लोगों से कहा कि विभागों में जो नीति आयोग के बिंदुओं पर कार्य चल रहे हैं उनमें यह देखा जाए कि इसे बेहतर कैसे बनाया जाए। जिला कार्यक्रम अधिकारी से कहा कि जो नीति आयोग से दिशा निर्देश स्वीकृति के प्राप्त हुए हैं उसीके अनुसार कार्य हों। सभी सामग्री आंगनबाड़ी केंद्रों में सही तरीके से व्यवस्थित कराएं। उन्होंने जिला कृषि अधिकारी को निर्देश दिए कि शिक्षा विभाग द्वारा नीति आयोग के बिंदुओं पर प्रगति नहीं कराई गई। इसमें जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को जवाब तलब करते हुए कार्यवाही कराएं। अगर इनके द्वारा कार्य में प्रगति नहीं कराई गई तो विभागीय कार्यवाही भी कराएं। 

मुख्य विकास अधिकारी से यह भी कहा कि जो विभाग नीति आयोग की धनराशि से कार्य व सामग्री क्रय किया है उसकी गुणवत्ता की जांच टीम गठित कर अवश्य कराया जाए। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, उप निदेशक कृषि टीपी शाही, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ आरके गुप्ता, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ केपी यादव, जिला विद्यालय निरीक्षक बलिराज राम, अग्रणी जिला प्रबंधक इलाहाबाद बैंक आरके सोनी, जिला कृषि अधिकारी बसंत कुमार दुबे, जिला उद्यान अधिकारी रमेश कुमार पाठक, जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास मनोज कुमार सहित संबंधित अधिकारी, पिरामल संस्था व यूनिसेफ के लोग मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages