आज से शुरू होगा निःशुल्क कोचिंग कक्षाओं का सिलसिला: आयुक्त - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, February 15, 2021

आज से शुरू होगा निःशुल्क कोचिंग कक्षाओं का सिलसिला: आयुक्त

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग से किया योजना का शुभारंभ 

सीडीओ नोडल अधिकारी, एसडीएम सदर व उप निदेशक समाज कल्याण सह नोडल अधिकारी बने 

बांदा, के एस दुबे । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि इस योजना से प्रतियोगी छात्र-छात्राओं के जीवन का सर्वांगीण विकास होगा। अभ्युदय योजना एक अभिनव योजना है। इससे प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे सिविल सेवा परीक्षा, पीसीएस, जेईई, नीट, एनडीए, सीडीएस आदि के लिए गरीब विद्यार्थियों को निशुल्क कोचिंग उपलब्ध हो सकेगी। 16 फरवरी से कोचिंग में पढ़ाई का कार्य शुरू हो जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी यह योजना मण्डल स्तर पर प्रारम्भ की जा रही है, बाद में इसको जिला स्तर पर भी शुरू किया जायेेगा। 

कार्यक्रम को संबोधित करते आयुक्त दिनेश कुमार सिंह

आयुक्त चित्रकूटधाम मण्डल दिनेश कुमार सिंह ने कहा कि अभ्युदय योजना के माध्यम से चित्रकूट मण्डल के छात्र-छात्राओं को कोचिंग की अच्छी व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने गरीब होेनहार बच्चों के लिए यह बहुत ही महत्वपूर्ण योजना शुरू की है। प्रारम्भ की है इससे होनहार छात्र अपने सपने को साकार कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि कोचिंग कार्य के लिए मुख्य विकास अधिकारी को नोडल अधिकारी तथा उप जिलाधिकारी सदर व उप निदेशक समाज कल्याण को सह नोडल अधिकारी बनाया गया है।

महानिरीक्षक पुलिस के. सत्यनारायन ने इस अवसर पर बोलते हुए कहा कि मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना छात्र-छात्राओं के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। उन्होंने कहा कि आन्ध्र प्रदेश में इस प्रकार की योजना पहले से संचालित है, मैंने स्वयं इस योजना का लाभ उठाकर कोचिंग की। आईएएस परीक्षा में सफल हो सका। आईजी ने कहा कि चित्रकूट मण्डल में अभी एक भी कोचिंग नही है। इसलिए यह योजना यहां के लिए बहुत ही उपयोगी साबित होगी।

मौजूद अधिकारीगण

जिलाधिकारी आनन्द कुमार सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के माध्यम से निर्बल वर्ग के अभ्यर्थियों को निशुल्क कोचिंग की सुविधा प्राप्त हो सकेगी। यहां के होनहार विद्यार्थियों को आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त हो सकेगा। एसपी सिद्धार्थ शंकर मीणा ने कहा कि प्रतियोगी छात्र-छात्राएं कोचिंग में दी गई गाइड लाइन को अपनाते हुए व्यापक ढंग से अध्ययन करें। इनके अलावा एसडीएम सदर सुधीर कुमार, सीडीओ हरिश्चंद्र वर्मा, डीएम के पुत्र यश आनंद ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी संतोष बहादुर सिंह, संयुक्त विकास आयुक्त रमेशचन्द्र पाण्डेय, उप निदेशक समाज कल्याण एएम भारती, उप निदेशक पंचायत दिनेश सिंह, उप निदेशक सूचना भूपेन्द्र सिंह यादव, जिला विद्यालय निरीक्षक विनोद सिंह, प्रधानाचार्य बजरंग इण्टर कालेज तथा विभिन्न मण्डल स्तरीय तथा जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages