लापरवाह ठेकेदारों के खिलाफ करें कार्यवाही: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, February 11, 2021

लापरवाह ठेकेदारों के खिलाफ करें कार्यवाही: डीएम

ग्राम निधि के कार्यों की बढ़ाएं प्रगति

जिले की रैकिंग में कमी आने पर अधिकारियों से लिया जाए स्पष्टीकरण

16 फरवरी के पहले मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना की पूरी करें तैयारी

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में नवीन विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों की मासिक समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।

जिलाधिकारी ने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो भी विकास कार्य कराए जाएं उसमें गुणवत्ता का विशेष ध्यान दें। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सड़कों के निर्माण कार्य को समय सीमा के अंदर गुणवत्ता पूर्ण कराएं। सभी सड़कों को गड्ढा मुक्त करें। उन्होंने कहा कि जो ठेकेदार कार्य सही से न कर रहे हो तो उनके खिलाफ कार्यवाही की जाए। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से कहा कि ऑपरेशन कायाकल्प में जिन विद्यालयों में कंपोजिट ग्रांट से 14 पैरामीटर्स के कार्य होना हैं उनमें प्रगति कराई जाए। कार्य पूर्ण हो गए हैं उसकी सूचना उपलब्ध कराएं। जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिए कि जो कार्य ग्राम निधि से कराए गए हैं उनकी प्रगति बढ़ाएं। माह फरवरी के अंत तक शत प्रतिशत कार्य पूर्ण हो जाना चाहिए। सामुदायिक शौचालय व पंचायत भवन के निर्माण कार्यों पर भी तेजी लाएं। विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए

बैठक में निर्देश देते डीएम।

बकाया विद्युत बिल की वसूली की प्रगति ठीक नहीं है इसे बढ़ाया जाए। झटपट पोर्टल में जो आवेदन पत्र प्राप्त होते हैं उन्हें तत्काल निस्तारित कराएं। जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी को निर्देश दिए कि जिन विभागों के विकास कार्यों की प्रगति ठीक नहीं है और जनपद की रैंकिंग में कमी आई है उन अधिकारियों से स्पष्टीकरण लें। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ केपी यादव को निर्देश दिए कि गोवंश की सहभागिता योजना को बढ़ाया जाए। किसान यूनियन के पदाधिकारियों से संपर्क कर गोदान कराएं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि आयुष्मान कार्ड की प्रगति बहुत कम है। इसमें आशा, एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकत्री व उचित दर विक्रेताओं तथा स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को लगाकर कराया जाए। मुख्य विकास अधिकारी से कहा कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास, डीसी एनआरएलएम, जिला पूर्ति अधिकारी को बुलाकर एक कार्य योजना तैयार करें। कहा कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रैपुरा के निर्माण कार्य में जो कमी है उसे कार्यदाई संस्था 20 फरवरी के पहले पूर्ण कर मुख्य चिकित्सा अधिकारी को हैंडओवर कराए। परियोजना प्रबंधक जल निगम को निर्देश दिए कि ग्रामीण पेयजल आपूर्ति के निर्माण कार्यों पर प्रगति कराएं। समय से फीडिंग भी कराई जाए। कन्या सुमंगला योजना के जो आवेदन पत्र लंबित है उनका संबंधित विभाग समय से निस्तारण कराएं। जिला प्रोबेशन अधिकारी से कहा कि विवरण सहित उपलब्ध कराया जाए। सहायक निबंधक सहकारी समितियां को निर्देश दिए कि ऋण वसूली को अभियान चलाकर कराया जाए। परियोजना प्रबंधक सेतु निगम को निर्देश दिए कि सेतु के निर्माण के लिए जो शासन से समयसीमा निर्धारित की गई है उसी के अनुसार समय सीमा के अंदर कार्यों को पूर्ण कराया जाए तथा जो नए सेतुओ की ड्राइंग शासन से प्राप्त हुई है उसका विवरण सहित उपलब्ध कराएं। उप निदेशक कृषि को निर्देश दिए कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि व फसल बीमा योजना की प्रगति बैंकों से संपर्क कर बढ़ाया जाए। ताकि किसानों को अधिक से अधिक लाभ मिल सके। जिलाधिकारी ने खंड विकास अधिकारियों तथा अधिशासी अधिकारियों को निर्देश दिए कि 16 फरवरी को मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन किया जाना है। जिसमें लक्ष्य के अनुसार वैवाहिक जोड़ो को तैयार कराकर उप जिला अधिकारियों के माध्यम से परीक्षण कर समय से आवेदन पत्र जिला समाज कल्याण अधिकारी को उपलब्ध कराएं। जिलाधिकारी ने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों से कहा कि जो भी जन समस्याएं प्राप्त होती हैं उनका समय से गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराया जाए। इसकी लगातार शासन से समीक्षा की जा रही है। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, प्रभागीय वनाधिकारी कैलाश प्रकाश, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, उप निदेशक कृषि टीपी शाही, परियोजना निदेशक अनय कुमार मिश्रा, जिला पंचायत राज अधिकारी संजय कुमार पांडेय सहित संबंधित अधिकारी  मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages