विद्युत विभाग की मनमानी: घर के अंदर से निकाली लाइन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, January 3, 2021

विद्युत विभाग की मनमानी: घर के अंदर से निकाली लाइन

खंभा लगवाने के नाम पर गृहस्वामी से वसूले पच्चीस हजार

अब लाइन हटवाने के नाम पर विभाग मांग चालीस हजार रूपये

फतेहपुर, शमशाद खान । विद्युत विभाग अपनी लापरवाही व मनमानी के कारण आये दिन सुर्खियों में बना रहता है। ऐसा ही एक अजीबो गरीब मामला शहर के जयरामनगर में देखने को मिला। जहां विभाग ने मनमानी रवैया अपनाते हुए निजी घर से अंदर से विद्युत लाइन निकाल दी और घर के बाहर खंभा लगवाने के नाम पर गृहस्वामी से पच्चीस हजार रूपये वसूल लिये। जब खंभे लग गये तो अब तार हटाने के नाम पर विभाग चालीस हजार रूपये रिश्वत की मांग कर रहे हैं। यह आरोप गृहस्वामिनी ने लगाते हुए विभाग द्वारा निकाली गयी विद्युत लाइन दिखाई। 

शहर के जयरामनगर मुहल्ला निवासी सरिता सिंह पत्नी राजू प्रसाद ने बताया कि विद्युत विभाग द्वारा लाइन खींची गई है। जिसे घर के बाहर शिफ्ट करने के संबंध में विभाग को कई बार प्रार्थना पत्र दिया, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई। जनसुनवाई में मामला डाला गया है। जिसकी संदर्भ संख्या 200 172 200 1096 7 है। पीड़ित महिला ने

घर से अंदर से निकली लाइन को दिखातीं गृहस्वामिनी।

बताया कि राधानगर पावर हाउस के जेई विवेक शर्मा से भी बात हुई। उनका कहना है कि प्रार्थना पत्र देती रहेंगी शिकायत करती रहेंगी कुछ नहीं होगा। लाइन हटाने का एस्टीमेट 116114 रूपये है। इसलिए पच्चीस हजार रूपये दे दो लाइन हटवा दी जायेगी। पीड़िता ने बताया कि उसने पच्चीस हजार रूपये विभाग को दे दिये। इसके बाद घर के सामने विभाग द्वारा दो खंभे गाड़ दिए। अब वह शिकायतकर्ता से 40000 और मांग रहे हैं जिसे देने से उसने मना कर दिया तो उन्होंने घर के बाहर तार शिफ्ट नहीं किया। पीड़िता का कहना है कि  घर के अंदर से विद्युत लाइन निकले होने की वजह से उनके बच्चों को जान माल का खतरा है। बिजली विभाग की इस लापरवाही से अगर किसी तरह के जानमाल का नुकसान होता है तो विभाग इसका जिम्मेदार होगा। इस समस्या से वह बेहद परेशान है और करीब दो वर्षों से बराबर उच्चाधिकारियों के चक्कर लगा रही हैं लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages