विधवा की मदद को नहीं उठे कोई हाथ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, January 1, 2021

विधवा की मदद को नहीं उठे कोई हाथ

आग में जला घर, आपरेशन को रखे 25 हजार, काटेे नहीं कटती सर्द रातें 

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। विगत दो दिन पूर्व पहाडी थानान्तर्गत प्रसिद्दपुर गॉव मे काग्रेंस के पूर्व जिला उपाध्यक्ष व भतीजे की गोली मारकर हत्या किये जाने से गुस्साये ग्रामीणो ने आरोपी के घर को आग के हवाले कर दिया था। जिससे आरोपी के साथ ही पडोस मे स्थित विधवा कोदिया का घर भी जलकर राख हो गया। विधवा कोदिया व परिजनो की मदद को न तो कोई राजनैतिक पार्टी न ही सामाजिक संगठन के लोग मदद के लिये आगे आये। विधवा कोदिया के अनुसार जब लडका केशन छोटा था। तभी पति हुबलाल की मौत हो गई। लडका बडा हुआ। शादी के कुछ वर्षो पश्चात पुत्र केशन की भी बीमारी से मृत्यु हो गई। परिवार मे विधवा बहू शैल कुमारी, नातिन एकता व दो नाबालिग नाती पंकज, पवन है। उनके पास भूमि नही हैं। परिवार के भरण-पोषण को कमाने वाला नहीं बचा है। विधवा कोदिया मजदूरी कर परिवार का जीविकोपार्जन करती है। किसी तरह पाई पाई जोडकर पच्चीस

विधवा का जला आशियाना।

हजार रुपये आपरेशन के लिए एकत्रित किया था, लेकिन अग्निकाड मे वो भी जल गये। नातिन एकता की शादी के लिये लोगो से मॉगकर कुछ अनाज एकत्रित किया। वह भी ग्रामीणो के कोप की भेट चढ गया। बहू शैल कुमारी के अनुसार इस अग्निकांड मेे सब कुछ जलकर राख हो गया। अब पुत्री एकता की शादी कैसे करेगी। इस हांडकपाऊ सर्दी मे दोनो पुत्र जहा खुले आसमान के नीचे ठिठुरते हुये रात गुजार रहे है। लोगो से मॉगकर बच्चो को खाना खिला रही है। बहू ने बताया कि पडोस मे स्थित मोस्ट युवा जागृति के संस्थापक कैलाश कोटार्य द्वारा भोजन दिया जा रहा है। उन्ही के घर मे रात गुजारते है, लेकिन उनके अलावा किसी समाजसेवी, राजनैतिक पार्टियां व प्रशासन ने सुध नहीं ली। वही घटना केे तीसरे दिन भी गॉव मे सन्नाटा पसरा रहा। मृतको के परिजनो की सुरक्षा को पीएसी के जवान तैनात है। आरोपी फरार है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages