चौपाल: डीएम ने ग्रामीणों की समस्याओं का कराया निस्तारण - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, January 28, 2021

चौपाल: डीएम ने ग्रामीणों की समस्याओं का कराया निस्तारण

योजनाओं व विकास कार्यों का किया सत्यापन

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय ने विकासखंड रामनगर की ग्राम पंचायत करौंदी कला में चैपाल लगाकर ग्राम पंचायत में कराए गए विकास कार्यो का सत्यापन व ग्रामवासियों की समस्याओं को सुनकर संबंधित अधिकारियों से निस्तारण कराया गया।

जिलाधिकारी ने हैण्डपम्प के सत्यापन के दौरान कहा कि रिबोर लायक हैंडपंप का कार्य कराएं। प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण के लाभार्थी तत्काल कार्य प्रारंभ करा दें। उन्होंने लाभार्थियों से जानकारी किया कि कोई आवास दिलाने पर रुपयों की मांग तो नहीं की। इस पर ग्रामवासियों ने बताया कि रुपयों की मांग नहीं की गई है। परियोजना निदेशक को निर्देश दिए कि तत्काल मकान निर्माण कराकर प्रगति रिपोर्ट उपलब्ध कराएं। वृद्धा, विधवा, दिव्यांग पेंशन की समीक्षा पर जिला समाज कल्याण अधिकारी डॉ नीलम सिंह ने बताया कि 130 लाभार्थियों के पेंशन योजनाओं के आवेदन पत्र स्वीकृत हुए हैं उन्हें लाभ दिलाया जाएगा। जिलाधिकारी ने कहा कि किसान

लाभार्थी को प्रमाण पत्र देते डीएम।

सम्मान निधि, विधवा, दिव्यांग, विद्युत विभाग, श्रम विभाग, आयुष्मान कार्ड आदि विभिन्न विभागों के स्टालों का लाभ लें। दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी राजेश नायक से कहा कि इस गांव के सभी दिव्यांगों का चिन्हांकन कर लाभान्वित किया जाए। खाद्यान्न वितरण के सत्यापन के दौरान कुछ लोगों के पास राशन कार्ड न बनने की समस्या पर पूर्ति निरीक्षक को निर्देश दिए कि जो पात्र लोग हैं उनका सत्यापन कर राशन कार्ड निर्गत करें। स्वच्छ शौचालय की समीक्षा पर जिलाधिकारी ने जिला विकास अधिकारी से कहा कि शौचालय निर्माण का सत्यापन तत्काल मौके पर अधिकारियों की टीम लगाकर कराएं और जांच रिपोर्ट दें। सचिव से कहा कि जिन लाभार्थियों के अधूरे शौचालय पड़े हैं उन्हें तत्काल निर्माण कराएं। मनरेगा के कार्यों पर भी अधिकारियों की टीम गठित कर सभी कार्यो का स्थलीय निरीक्षण कर सत्यापन रिपोर्ट उपलब्ध कराएं। इसी प्रकार राज्य वित्त, 14वा वित्त की धनराशि के भी जो गांव में कार्य कराए गए हैं उनका भी सत्यापन कराया जाए। गौशाला संचालन में ग्राम प्रधान ने बताया कि गौशाला में 127 अन्ना गोवंश संरक्षित कर भरण पोषण किया जा रहा है, लेकिन गांववासियों द्वारा पशु छोड़ दिए जाते हैं। जिससे किसानों की फसलों का नुकसान होता है। इस पर जिलाधिकारी ने प्रभारी निरीक्षक रैपुरा को निर्देश दिए कि संबंधित लोगों के खिलाफ कार्यवाही करें। कहा कि अगर अन्ना पशु छोड़ेंगे तो खेती बर्बाद होगी। उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति पशु न छोड़ें। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ केपी यादव से कहा कि जो गांव के लोगों के गोबंश है उनका डबल टैगिंग कराया जाए तथा गौशाला के गोवंश को एक टैग लगाया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि पंचायत भवन का जो निर्माण कार्य हो गया है उसमें ग्राम सचिवालय के रूप में परिवर्तित कर सचिव, लेखपाल सहित समस्त ग्राम स्तरीय अधिकारियों के नाम, मोबाइल नंबर, बैठने का दिनांक आदि अंकित कर व्यवस्था सुनिश्चित करें। उप जिलाधिकारी राजापुर से कहा कि जन सुविधा केंद्र की भी व्यवस्था कराएं। ताकि गांव के लोगों को योजनाओं का लाभ गांव में ही मिले। उनकी समस्याओं का समाधान भी हो। किसान सम्मान निधि में किसानों के गलत खाते में पैसा जाने की समस्या पर जिला कृषि अधिकारी बसंत कुमार दुबे को निर्देश दिए कि तत्काल इसका समाधान कराएं। कहा कि शासन की नीति है कि सबका साथ, सबका विकास, सबका सम्मान को लेकर कार्य किया जाए। वर्मी कंपोस्ट, कुसुम योजना, बीज वितरण आदि का सत्यापन कर रिपोर्ट दें। उप जिला अधिकारी इसकी क्रास चेकिंग भी करें। जिलाधिकारी ने अविवादित वरासत पर ग्रामवासियों से कहा कि शासन ने अभियान चलाया है कि कोई भी अगर मुखिया या किसी परिवार के व्यक्ति की मृत्यु हो गई है और मृत्यु के बाद उसके परिवार के लोगों का नाम खतौनी में दर्ज नहीं है तो वह दर्ज करा ले। ग्राम पंचायत में अभी तक 26 लोगों का नाम दर्ज किया गया है। तहसीलदार से कहा कि जिनके नाम खतौनी में गलत दर्ज है उनका तत्काल सही कराएं। तत्पश्चात जिलाधिकारी ने जिन लोगों के खतौनी में नाम दर्ज किए गए हैं उन्हें खतौनी भी उपलब्ध कराई। जिलाधिकारी ने कहा कि समस्याओं का शत प्रतिशत निस्तारण संबंधित विभागों से कराया जाएगा। चैपाल के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, उप जिलाधिकारी राजापुर राहुल कश्यप, पुलिस क्षेत्राधिकारी राजापुर राम प्रकाश, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, परियोजना निदेशक अनय कुमार मिश्रा, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ केपी यादव, डीसी मनरेगा दयाराम, अपर जिला पंचायत राज अधिकारी राजबहादुर, खंड विकास अधिकारी रामनगर आसाराम सिंह सहित संबंधित अधिकारी व सचिव अमरीश त्रिपाठी, ग्राम प्रधान राजकुमारी समेत ग्रामीण मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages