हादसों से बचने को यातायात नियमों का करें पालन: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, January 19, 2021

हादसों से बचने को यातायात नियमों का करें पालन: डीएम

राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह अभियान का शुभारंभ

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय व पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल ने सोमवार को पटेल तिराहा कर्वी से राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह अभियान का शुभारंभ हरी झंडी दिखाकर किया। 

जिलाधिकारी ने कहा कि यातायात सुरक्षा माह 17 फरवरी तक विभिन्न स्थानों पर कार्यक्रम आयोजित कर जन जागरूकता किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सबसे बड़ी बात यह है कि सड़क दुर्घटनाएं निरंतर बढ़ रही हैं। लोगों को जागरूक कर सीट बेल्ट, हेलमेट तथा अन्य यातायात के जो नियम है उन्हें अपनाकर सुरक्षित रहें। निरंतर जागरूक करने की जरूरत है। इसके लिए परिवहन विभाग ने राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह कार्यक्रम की विभिन्न स्तर पर रूपरेखा तैयार की गई है। जिसमें लोगों को अधिक से अधिक जागरूक किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटनाएं अर्थव्यवस्था, जन स्वास्थ्य तथा जनता के कल्याणकारी कार्यों पर निषेधात्मक प्रभाव डालती है। दुर्घटनाएं, असामयिक मृत्यु, गंभीर चोट एवं उत्पादकता में कमी के रूप में मानव के लिए त्रासदी है। सड़क दुर्घटनाएं न हो और सड़क यातायात सुरक्षित हो इसी उद्देश्य के लिए सड़क सुरक्षा समिति का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि अन्य प्रदेशों की तुलना में उत्तर प्रदेश में संख्यात्मक दृष्टि से दुर्घटनाओं में कमी आई है, किंतु सड़क दुर्घटना में

हरी झण्डी दिखाते डीएम-एसपी।

मृतकों की संख्या देश में सर्वाधिक है। उन्होंने कहा कि विश्व में कुल वाहनों का एक प्रतिशत वाहन संचालन भारत में किया जाता है। जबकि सड़क दुर्घटनाएं भारत में विश्व का 6 प्रतिशत है। वर्ष 2019 में सर्वेक्षण के अनुसार भारत में 4.49 लाख दुर्घटनाओं में 1.51 लाख लोगों की मृत्यु हुई और 4.51 लाख लोग गंभीर रूप से घायल हुए। उन्होंने कहा कि सर्वेक्षण के अनुसार भारत में प्रतिदिन औसतन 1230 दुर्घटनाओं में से 414 लोगों की मृत्यु हुई अर्थात प्रति घंटा औसतन 51 दुर्घटनाओं में 17 लोगों की मृत्यु होती है। वर्ष 2019 में सर्वेक्षण के अनुसार उत्तर प्रदेश में 42572 दुर्घटनाओं में से 22655 लोगों की मृत्यु हुई और 28932 लोग गंभीर रूप से घायल हुए है। प्रतिदिन औसतन 117 दुर्घटनाओं में 62 लोगों की मृत्यु होती है। प्रति घंटा औसतन पांच दुर्घटनाओं में 2.5 लोगों की मृत्यु होती है। उन्होंने कहा कि मास्क का प्रयोग करें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें सैनिटाइजर व साबुन से हाथ अवश्य साफ करें। नशे की हालत में वाहन नहीं चलाएं। चार पहिया वाहन चलाते समय सीट बेल्ट तथा दो पहिया वाहन में हेलमेट का प्रयोग अवश्य करें। वाहन ड्राइव के दौरान मोबाइल फोन का प्रयोग न करें। निर्धारित गति एवं लेन में ही वाहन चलाएं। सड़क सुरक्षा यातायात के नियम का पालन करते हुए सुरक्षित रहे।

सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी सुरेशचंद्र यादव ने जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक सहित अन्य लोगों को पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत किया। राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह कार्यक्रम की रूपरेखा, सड़क सुरक्षा के लिए शपथ आदि की विस्तृत जानकारी दी। यातायात रैली के दौरान अपर पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र कुमार राय, पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर रजनीश यादव, जिला विद्यालय निरीक्षक बलिराज राम, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद कर्वी नरेंद्र मोहन मिश्र, ट्रैफिक इंचार्ज घनश्याम पाण्डेय सहित संबंधित अधिकारी, व्यापार मंडल के मंडल उपाध्यक्ष पंकज अग्रवाल जिलाध्यक्ष ओम केसरवानी सहित विभिन्न विद्यालयों के छात्र व शिक्षकगण मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages