शिक्षा विभाग के सभी वर्गों की मांगों को पूरा किया जायेगा : अखिलेश - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, January 8, 2021

शिक्षा विभाग के सभी वर्गों की मांगों को पूरा किया जायेगा : अखिलेश

विभिन्न शिक्षक संगठनों ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को चित्रकूट आगमन पर सौंपा ज्ञापन

चित्रकूट,सुखेन्द्र अग्रहरि। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के चित्रकूट आगमन पर माध्यमिक व्यवसायिक शिक्षक संघ के मंडल अध्यक्ष शंकर प्रसाद यादव, अनुदेशक शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष श्याम सुंदर यादव और माध्यमिक शिक्षणेत्तर संघ के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार शर्मा ने ज्ञापन सौंपा।

व्यवसायिक शिक्षक संघ के मंडल अध्यक्ष शंकर यादव ने अवगत कराया कि सरकार द्वारा प्रदेश के 892 राजकीय  व सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में लगभग 30 वर्षों से व्यवसायिक शिक्षा का संचालन किया जा रहा है जिसमें 2335 व्यवसायिक शिक्षक अतिथि विषय विशेषज्ञ के रूप में छात्र-छात्राओं को रोजगार परक शिक्षा प्रदान कर रहे हैं,लेकिन आज तक उन्हें स्थाई शिक्षक का दर्जा नहीं दिया गया।सरकार सिर्फ ₹15000 प्रतिमाह मानदेय देकर उनके भविष्य को अधर में लटकाए हुए हैं। जिससे व्यवसायिक शिक्षक अपने भविष्य को लेकर बेहद चिंतित हैं। इसी तरह अनुदेशक शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष श्याम सुंदर यादव ने अखिलेश यादव से कहा कि प्रदेश में 41000 अनुदेशक उच्च प्राथमिक विद्यालयों में 7 वर्षों से सिर्फ ₹7000 मानदेय पर शिक्षण कार्य करने को मजबूर हैं उन्हें सरकार आज तक नियमित करना तो दूर बढ़ा हुआ मानदेय भी लागू नहीं कर रही है, इसी तरह उत्तर प्रदेश  माध्यमिक शिक्षणेत्तर संघ के प्रदेश अध्यक्ष अजय शर्मा ने अपनी मांगों का ज्ञापन दिया जिसमें योग्यता धारी कर्मचारियों को शिक्षक पदों पर पदोन्नति देने सहित कई मांगे उल्लिखित किया गया है, 


इस पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि उनकी सरकार शिक्षामित्रों , अनुदेशकों  और व्यवसायिक शिक्षकों को नियमित करके सम्मानजनक वेतन अनुमन्य किया जायेगा, जब बीजेपी की सरकार सत्ता में आई तो बदले की भावना से शिक्षामित्रों को नौकरी से हटाने का काम किया, अनुदेशको का भी मानदेय सपा सरकार में बढ़ाया गया था लेकिन बीजेपी ने बढ़े हुए मानदेय को आज तक लागू नहीं किया ।इसी तरह व्यवसायिक शिक्षकों के लिए नेता जी ने मानदेय दुगना किया था लेकिन मौजूदा भाजपा सरकार ने शिक्षा विभाग में किसी भी वर्ग के हित के लिए कोई कार्य नहीं किया, हमारी सरकार सत्ता में आएगी तो  व्यवसायिक शिक्षकों, अनुदेशकों ,शिक्षामित्रों, शिक्षक कर्मचारियों सहित सभी दुखी पीड़ित शिक्षक कर्मचारियों को नियमित किया जाएगा और जो लंबित मांगे हैं उन्हें भी पूर्ण करने का काम होगा।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages