दस्यु दल की तलाश में आईजी ने जंगल में की कांबिंग - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, January 12, 2021

दस्यु दल की तलाश में आईजी ने जंगल में की कांबिंग

पंचायत चुनाव को ध्यान में रखकर बरती जा रही सख्ती 

डकैत गौरी यादव द्वारा चेकडैम पहुंचकर की गई थी मारपीट 

बांदा, के एस दुबे । निर्माणाधीन चेकडैम में पहुंचकर दस्यु गौरी यादव ने काम कर रहे लोगों के साथ मारपीट की थी, उसके बाद से पुलिस प्रशासन सकते में आ गया है। आगामी पंचायत चुनाव में किसी भी प्रकार की डकैतों की दखलंदाजी न हो, इसको लेकर आईजी के. सत्यनारायणा जंगलों में कांबिंग कर रहे हैं। 

मंगलवार को आईजी ने दस्यु दल की तलाश में कांबिंग की। 3 जनवरी को बहिलपुरवा जनपरद चित्रकूट के ददरी वन क्षेत्र में अपने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर निर्माणाधीन चेकडैम में कार्य कर रहे वंशीधर पुत्र खुलीराम निवासी बड़ी बिलहरी थाना बहिलपुरवा के साथ की गई मारपी टौर डरा-धमकाकर तीन लाख रुपयों की मांग कर सरकारी कार्य में बाधा डाली गई। इस संबंध में पीड़ित की सूचना पर रिपोर्ट पंजीकृत की गई। इस गैंग के खिलाफ

बीहड़ इलाके में कांबिंग करते आईजी के. सत्यनारायण व अन्य

कार्रवाई करने एवं गिरफ्तारी के लिए 7 जनवरी को पुलिस टीम के साथ संभावित स्थानों पर छानबीन और कांबिंग की गई थी। एसपी चित्रकूट को कार्रवाई कराने के लिए निर्देशित किया गया था। डकैत गैंग को ग्राम चुलहा, ग्राम रिसन का मजरा, ग्राम महुई, ग्राम कुलुवामाफी, खमरिया के मजरा में आने की सूचना मुखबिर से मिलने पर आईजी ने 11 जनवरी को पुलिस टीमों के साथ मौके पर जाकर कांबिंग की। लेकिन गैंग नहीं आया। ग्राम चुलहा, ग्राम रसिन का मजरा यादव बाहुल्य गांव है। पहाड़ से सटे हुए हैं। गांव महुई, ग्राम बलदेव का पुरवा थाना फतेहगंज में रमेश यादव ग्राम प्रधान है। ग्राम कुलुहामाफी थाना भरतकूप एवं खम्हरिया का मजरा जहां पर ग्राम प्रधान शारदा हैं। इनसे गौरी यादव गैंग के बारे में पूछतांछ कर जानकारी की गई। इन गांवों में नियमित रूप से कांबिंग करने के निर्देश एसपी चित्रकूट को दिए गए हैं। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages