सामूहिक अवकाश लेकर शिक्षक 16 को भरेंगे हुंकार - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, January 10, 2021

सामूहिक अवकाश लेकर शिक्षक 16 को भरेंगे हुंकार

संघर्षों से अर्जित उपलब्धियों को सरकार कर रही समाप्त-आलोक

फतेहपुर, शमशाद खान । उप्र माध्यमिक शिक्षक संघ की जनपद इकाई की बैठक रविवार को जिलाध्यक्ष आलोक शुक्ला की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक को सम्बोधित करते हुए प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अतुल यादव, कमल सिंह चैहान, कोषाध्यक्ष विश्वनाथ सिंह वरिष्ठ शिक्षक नेता भानु प्रताप, कौशल कुमार ने कहा कि सरकार शिक्षकों की समस्याओ पर गंभीर नही है। शिक्षकों की समस्याओं व जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में जारी भ्रष्टाचार को लेकर संगठन द्वारा 16 जनवरी को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर अनशन व धरना प्रदर्शन किया जायेगा। जिसके पश्चात एक दिवसीय उपवास पर रहेंगे। साथ ही कहा कि यदि कार्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार समाप्त नही होता तो संगठन द्वार क्रमिक उपवास किया जायेगा। उन्होंने सभी शिक्षकों से धरने को सफल बनाने के लिये सामूहिक रूप से अवकाश लेकर धरने में शामिल होने का आह्वान किया। बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष आलोक

बैठक को सम्बोधित करते शिक्षक नेता अतुल यादव।

शुक्ला ने कहाकि वर्तमान सरकार संगठन के संघर्षों से अर्जित उपलब्धियों को धीरे-धीरे समाप्त करने का कार्य कर रही है। संगठन पुनः अपनी नये जोश, नई ऊर्जा एवं अपने दूरदर्शी नेतृत्व के साथ शिक्षक हितों के लिए सरकार के खिलाफ आगामी 16 जनवरी  को जनपद मुख्यालय स्थित जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में संघर्ष प्रथम चरण में सरकार की शोषणकारी नीतियों के विरोध में एवं शिक्षकों के हितों में अहम मांग को लेकर विशाल धरना प्रदर्शन कर अपनी मांगों को रखा जायेगा। उन्होंने शिक्षकों से धरने में शामिल होकर सफल बनाने का आह्वान किया। समस्याओ को गिनाते हुए कहा कि जनपद में समस्त नवनियुक्त शिक्षकों का एरियर सहित वेतन का भुगतान अविलम्ब किया जाये, एनपीएएस से आच्छादित समस्त शिक्षकों को नियुक्ति तिथि से ब्याज सहित भुगतान खाते में अविलम्ब जमा कराया जाये और एनपीए. से आच्छादित शिक्षकों को एनपीएस कटौती लेखापर्ची जारी की जाये। कहाकि जय प्रकाश नारायण प्रधानाचार्य, त्रिलोकीनाथ मिश्र, अर्पित शर्मा, पन्नालाल, अनिल कुमार, हीरालाल, धर्मेन्द्र कुशवाहा, अमित कुमार सिंह की चयन वेतनमान की पत्रावली कार्यालय में दो माह से लम्बित है जिसका निस्तारण शीघ्र कराया जाये। अपने सम्बोधन में आगे उन्होंने कहा कि सरकार की नियत हमारी शैक्षिक व्यवस्था पर ठीक नहीं है संघर्षों से अर्जित उपलब्धियों पर हमला हो रहा है, पुरानी पेंशन गयी, भविष्य निधि गयी, सामूहिक बीमा गया, धीरे-धीरे सरकार नियत वेतन वितरण अधिनियम को समाप्त करने पर लगी हुई है। विधान परिषद के चुनाव में शिक्षक सीटों पर गैर शिक्षकों को जिताकर सरकार ने विधान परिषद में शिक्षकों का पक्ष कमजोर कर दिया है। विधान परिषद से उप्र माशिसंघ नहीं बचा है कहाकि संघ की वजह से विधान परिषद की शोभा बढ़ती है। संचालन विनोद कुमार के द्वारा किया गया। इस मौके पर धनराज सिंह, जगमोहन, अनिल कुमार, आदित्य द्विवेदी, धर्मेन्द्र सिंह, विनोद कुमार, मासूक खान, ओम प्रकाश शुक्ला, सुशील कुमार, अमित कुमार द्विवेदी, डा0 शिवकुमार, अर्पित सचान, अनुज त्रिवेदी, शोभराज, समरजीत सिंह, अमित प्रकाश बाजपेयी सहित अनेक शिक्षक मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages