बाबा साहब का योगदान हमेशा याद रखेगा हिन्दुस्तान: विपिन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, December 6, 2020

बाबा साहब का योगदान हमेशा याद रखेगा हिन्दुस्तान: विपिन

सपाईयों ने परिनिर्वाण दिवस मना चित्र पर किया माल्यार्पण

फतेहपुर, शमशाद खान । संविधान निर्माता एवं युग प्रवर्तक बाबा साहब डा0 भीमराव अम्बेडकर के 65 वें परिनिर्वाण दिवस पर समाजवादी पार्टी कार्यालय में विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसको सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष विपिन सिंह यादव ने कहा कि बाबा साहब ने दलित, पिछड़ों, दबे, कुचले, शोषित एवं वंचित समाज की आवाज बनने का काम किया था। उनके योगदान को हिन्दुस्तान हमेशा याद रखेगा। 

शहर के शादीपुर स्थित समाजवादी पार्टी कार्यालय में बाबा साहब क परिनिर्वाण दिवस मनाया गया। सर्वप्रथम सपाईयों ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। तत्पश्चात जिलाध्यक्ष विपिन सिंह यादव की अध्यक्षता में गोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष श्री यादव ने कहा कि 14 अप्रैल 1891 को

बाबा साहब के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि देते सपाई।

मध्य प्रदेश के महू में माता-पिता रामजी मालोजी सकपाल और भीमाबाई मुरबादरकर सकपाल के जन्म जन्म लिया। वे भारत के महानतम नेताओं में से एक बन गये। भीमराव रामजी अम्बेडकर का जन्म एक महा दलित परिवार में हुआ था। उनके पिता ने मध्य प्रदेश में महू छावनी में ब्रिटिश भारतीय सेना में सेवा की। अपनी जाति के अधिकांश बच्चों के विपरीत युवा भीम ने स्कूल में पढ़ाई की थी हालांकि उन्हें और उनके दलित मित्रों को कक्षा के अंदर बैठने की अनुमति नहीं थी। शिक्षक उनकी नोटबुक को नहीं छूते थे। जब उन्होने पानी पीने की गुहार लगायी तो स्कूल के चपरासी जो ऊंची जाति के थे पीने के लिए ऊंचाई से पानी डाला। चपरासी के अनुपलब्ध होने के दिन युवा भीम व उसके दोस्तों को बिना पानी के दिन गुजारना पड़ता था। आगे चलकर संविधान सभा के प्रारूप समिति के अध्यक्ष बनकर डा0 भीमराव अम्बेडकर ने भारत के संविधान को दो वर्ष ग्यारह माह अट्ठारह दिन में राष्ट्र को समर्पित किया। उन्होने कहा कि दलित, शोषित, वंचित समाज के लिए उनके द्वारा किये गये कार्यों को कभी भुलाया नहीं जा सकता। इस मौके पर पूर्व चेयरमैन चन्द्र प्रकाश लोधी, नफीस उद्दीन, नगर अध्यक्ष मो0 साबिर, चैधरी मंजर यार, सोनू यादव, रहीम राईन कादरी, शकील अकबर, आजम खान, तनवीर अहमद, जसवीर सिंह, ओवैस फारूकी, यासीर अहमद, दिलशाद अहमद, नफीस अहमद, बृजेन्द्र यादव, मो0 अरशद, रामू, दिलशाद, चुन्नू, मो0 अंसार, सरवर अली, जाहिद अहमद, नरेश कोरी, जीशान रजा, रेहान असलम आदि मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages