सुपोषण मिशन से क्रय सामग्री के गुणवत्ता की कराएं जांच: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, December 18, 2020

सुपोषण मिशन से क्रय सामग्री के गुणवत्ता की कराएं जांच: डीएम

कैम्प लगाकर बनाएं किसान क्रेडिट कार्ड

विभाग तत्काल भेजें कार्यों के प्रस्ताव

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में नीति आयोग के सूचकांकों की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।

जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य, कृषि, शिक्षा, वित्तीय समावेशन, दूरभाष, बाल विकास, नगर निकाय, मंडी, कौशल विकास, सड़क, लघु सिंचाई, जल निगम, आजीविका मिशन आदि की बिंदुवार समीक्षा की। फसल बीमा कंपनी के अधिकारियों से कहा कि सभी विकास खंडों में कार्यालय स्थापित कर किसानों के फसल बीमा कराए जाएं। अग्रणी जिला प्रबंधक इलाहाबाद बैंक आरके सोनी से कहा कि जिन किसान क्रेडिट कार्डधारकों का खाता संचालन लगातार हो रहा है। उनको शत प्रतिशत फसल बीमा से आच्छादित कराया जाए। जिला कृषि अधिकारी को निर्देश दिए कि जो कृषक किसान सम्मान निधि का लाभ ले रहे हैं उनका किसान क्रेडिट कार्ड कैंप लगाकर बनाएं और

बैठक में निर्देश देते डीएम।

प्रतिदिन का फीडबैक भी दे। गांव में जो पात्र किसान है उन्हें किसान सम्मान निधि मिल रही है कि नहीं इसका भी विवरण उपलब्ध कराएं। अग्रणी जिला प्रबंधक से यह भी कहा कि जिन किसानों के खाता एनपीए है उन्हें रेगुलर कराकर फसल बीमा का लाभ दिलाया जाए। वित्तीय समावेशन को बढ़ाया जाए। जिलाधिकारी ने समस्त संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन कार्यों पर प्रगति हुई है उसकी रिपोर्ट जिला कृषि अधिकारी को तत्काल उपलब्ध करा दें। मुख्य विकास अधिकारी से कहा कि सुपोषण मिशन में जो सामग्री क्रय किया जा रहा है उसकी क्वालिटी की जांच अवश्य कराई जाए। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो नीति आयोग से दिशा निर्देश दिए गए हैं उसका अनुपालन सुनिश्चित कराएं। ताकि जनपद की रैंकिंग ठीक रहे। जिन बिंदुओं की प्रगति कम हुई है उसमें प्रगति बढ़ाएं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार ने कहा कि हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर के कार्यों को बढ़ाया जाए तथा इसकी समीक्षा भी कराएं। रैपुरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को तत्काल शुरू करें। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से कहा कि ज्ञान मंदाकिनी व सक्षम बेटियां अभियान, स्मार्ट क्लास को बढ़ावा दें। उन्होंने कहा कि मां मंदाकिनी गंगा के अविरल जल अभियान के कार्य पर प्रगति लाएं तथा रेन वाटर हार्वेस्टिंग के कार्यों को भी बढ़ाया जाए। जिलाधिकारी ने पिरामल संस्था व यूनिसेफ के लोगों से कहा कि स्वास्थ्य, शिक्षा व पोषण मिशन के बिंदुओं पर फोकस करें। उन्होंने कहा कि जिन विभागों के कार्यों के प्रस्ताव नीति आयोग को भेजे जाने हैं वह समय से जिला कृषि अधिकारी को उपलब्ध करा दें। ताकि शासन को भेजा जा सके। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ आरके गुप्ता, जिला कृषि अधिकारी बसंत कुमार दुबे, जिला उद्यान अधिकारी रमेश कुमार पाठक, जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास मनोज कुमार, जिला विद्यालय निरीक्षक बलिराज राम, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ओमकार राणा सहित संबंधित अधिकारी, पिरामल संस्था व यूनिसेफ के लोग मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages