अनुसूचित जाति बाहुल्य बीस गांवों की बदलेगी तस्वीर: हवेलकर - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, December 4, 2020

अनुसूचित जाति बाहुल्य बीस गांवों की बदलेगी तस्वीर: हवेलकर

योगी सरकार में राज्य सलाहकार समितियों की कमान दलितों के हाथ में

फतेहपुर, शमशाद खान । प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना राज्य सलाहकार समिति के सदस्य रविशंकर हवेलकर ने कहा कि योगी सरकार में राज्य सलाहकार समितियों की कमान दलितों के हाथ में है। जनपद के अनुसूचित जाति बाहुल्य बीस गांवों की तस्वीर जल्द ही बदलेगी। चिन्हित गांवों में मूलभूत सुविधाओं के साथ-साथ शिक्षा के संसाधन उपलब्ध कराये जायेंगे। 

शुक्रवार को पीडब्ल्यूडी डाक बंगले में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उक्त बातें प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना राज्य सलाहकार समिति के सदस्य रविशंकर हवेलकर ने कही। एक दिवसीय भ्रमण के दौरान जनपद आये सदस्य ने सर्वप्रथम अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। तत्पश्चात पत्रकारों से रूबरू होते हुए बताया कि योगी सरकार

पत्रकारों से बातचीत करते राज्य सलाहकार समिति के सदस्य रविशंकर हवेलकर।

में राज्य सलाहकार समितियों की कमान दलितों के हाथों में सौंप दी गयी है। अनुसूचित जाति बाहुल्य जनपद के प्रत्येक बीस गांव की तस्वीर बदलेगी। उन्होने कहा कि चिन्हित किये गये ग्रामों में बिजली, पानी, सड़क, सफाई, स्वास्थ्य, शिक्षा, शौचालय सहित अन्य सभी सुविधाएं मुहैया कराई जायेगी। समाज कल्याण विभाग को इसका नोडल बनाया गया है। उन्होने कहा कि अन्य 15 विभागों के साथ मिलकर गांव में सालाना 623 लाख रूपये से विकास कार्य कराये जायेंगे। कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की अति महत्वाकांक्षी एवं दूरगामी इस योजना के माध्यम से विकास के क्षेत्र में पिछड़े गांव को प्राथमिकता के आधार पर विकसित किया जायेगा। क्रियान्वयन के लिए 50 फीसदी से अधिक अनुसूचित जाति के आबादी वाले गांव के एकीकृत विकास के लिए चिन्हित किया गया है। चयनित गांव में गरीब उन्मूलन शिक्षा की दिशा में प्रगति, बच्चों को परिषदीय विद्यालय में दाखिला, महिलाओं को 100 प्रतिशत टीकाकरण, राशन कार्ड सहित केन्द्र व प्रदेश सरकार की सभी योजनाओं का लाभ पात्रता के आधार पर दिलाया जायेगा। उन्होने बताया कि 623 लाख रूपये से स्कूल, आंगनबाड़ी, पंचायत भवन, शुद्ध पेयजल, हैण्डपम्प की मरम्मत सहित अन्य कार्यों को शामिल किया गया है। इसके अलावा बेहतर काम करने वाले गांवों को रूपया पांच लाख सालाना अतिरिक्त मदद भी दी जायेगी। वार्ता के दौरान भाजपा अनुसूचित मोर्चा के जिलाध्यक्ष देवनाथ धाकड़े भी मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages