सपाईयों ने चौपाल में किसान विरोधी बिल पर की चर्चा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, December 21, 2020

सपाईयों ने चौपाल में किसान विरोधी बिल पर की चर्चा

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। समाजवादी पार्टी के देशव्यापी किसान आंदोलन के समर्थन व किसान विरोधी काले कानूनों के खिलाफ गांव-गांव पदयात्रा, चैपाल कार्यक्रम के तहत जिलाध्यक्ष अनुज सिंह यादव ने कर्वी विधान सभा कें बारामाफी गावं में कार्यकारिणी कें पदाधिकारियों, पूर्व विधायक वीर सिंह पटेल के साथ पहुंचकर मोदी सरकार के अड़ियल रवैया, किसान कानूनों के बारे में विस्तार से चर्चा की। इस दौरान जिलाध्यक्ष ने कहा कि भाजपा तानाशाही सरकार की तरह काम कर रही है। लोकतंत्र में ऐसा अड़ियल एवं तानाशाहीपूर्ण कार्य निंदनीय है। आज देश का 14 करोड़ किसान आंदोलन करने को विवश है। मोदी सरकार ने कानून बनाते समय किसानों से चर्चा करना उचित नहीं समझा और आज जब किसान इन काले कानूनों का विरोध कर रहा है तो उन्हें आतंकी एवं नक्सली कहा जा रहा है। यह सरकार के अड़ियलपन को दर्शाता है। जब तक भाजपा सरकार इन किसान विरोधी कानूनों को खत्म नहीं करती आंदोलन जारी रहेगा। योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा अक्षम मुख्यमंत्री

पदयात्रा निकालते सपाई।

साबित हुए हैं। प्रदेश में सत्ताजनित अपराध चरम पर है। गुंडे माफियाओं की बाढ़ आ गई है। विकास के मामले में योगी राज में प्रदेश दशकों पिछड़ चुका है। योगी सरकार के चार वर्ष पूरे होने को है, परंतु विकास के नाम पर जनपद चित्रकूट और प्रदेश में एक भी पत्थर नहीं लग पाया है। दलित, पिछड़ा और शोषित समाज अपने को ठगा महसूस कर रहा है। महंगाई, बेरोजगारी, महिलाओं पर अत्याचार, कानून व्यवस्था के बिगड़े हालातों ने प्रदेश की आवाम का मनोबल गिरा दिया है। आज प्रदेश की जनता सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की सरकार को याद कर रही है। पूर्व विधायक वीर सिंह पटेल नें कहा की केंद्र सरकार ने किसान बिल पूंजीपतियों कें हित को ध्यान रखते हुये बनाया हैं। चैपाल में मुख्य रूप सें मों. गुलाब खान, राजकिशोर विश्वकर्मा, फराज खान, पवन पटेल, सीताराम कश्यप, कुशल यादव, सरनाम यादव, चंदन कोटार्य, रामचन्द्र वर्मा, मुन्नालाल सोनकर आदि मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages