विद्युत कर्मियों ने प्रदर्शन कर अन्नदाता का किया समर्थन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, December 8, 2020

विद्युत कर्मियों ने प्रदर्शन कर अन्नदाता का किया समर्थन

आमजन व लोकतंत्र विरोधी है विद्युत का निजीकरण

फतेहपुर, शमशाद खान । केन्द्र सरकार द्वारा लाये गये कृषि बिलों के विरोध में किसानों के चल रहे प्रदर्शन का मंगलवार को पूर्वांचल विद्युत वितरण खण्ड के अधिकारियों व कर्मचारियोंने समर्थन करते हुए एक्सईएन कार्यालय परिसर में प्रदर्शन किया। वक्ताओं का कहना रहा कि केन्द्र सरकार अपनी मनमानी पर उतारू है। जिससे मजबूर होकर किसानों को सड़कों पर उतरना पड़ा है। इसी तरह विद्युत विभाग का निजीकरण भी आमजन व लोकतंत्र विरोधी है। जिसे विभाग कतई बर्दाश्त नहीं करेगा। 

एक्सईएन कार्यालय परिसर में नारेबाजी करते विद्युत कर्मी।

अधिशाषी अभियन्ता प्रथम के कार्यालय पर देश के अन्नदाता किसानों के समर्थन में राज्य विद्युत परिषद प्राविधिक कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष धीरेन्द्र सिंह यादव की अगुवई में विद्युत कर्मचारियों ने दोपहर एक बजे से तीन बजे तक दो घण्टे के लिए विरोध सभा का आयोजन किया। जिसमें सभी अधिकारियों व कर्मचारियों ने कहा कि केन्द्र सरकार की मनमाने पूर्ण नीतियो के कारण आज देश के अन्नदाता (किसान) इस भीषण सर्दी जैसे चुनौतीपूर्ण वातावरण में सड़को पर उतरने को मजबूर हैं। वही सरकार जनहित एवं कर्मचारी हितों को ताक में रखकर विधुत अधिनियम बिल-2020 को पारित करने पर अमादा है। वक्ताओं ने कहा कि इतना ही नहीं सरकार द्वारा कई राज्यों में बिना किसी वैध कानून के होते हुये भी विधि विरुद्ध दस्तावेज के सहारे बिजली क्षेत्रों का निजीकरण किये जाने की कार्यवाही जोरो पर जारी रखी है। जो कि पूर्णतः उद्योग हित विरोधी, आमजन विरोधी एवं लोकतंत्र विरोधी है। वक्ताओं ने कहा कि अन्नदाता किसानों का उत्पीड़न एवं विभाग का निजीकरण किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। इस मौके पर अधिशाषी अभियन्ता प्रभाकर पाण्डेय, पवन सिंह, नरेन्द्र नाथ जेई, गजेन्द्र सिंह, अजीत सोनी, अरविन्द, नवीन सुधाकर, राजेश बाबू, बुद्धराज बाबू आदि मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages