खाकी के जोश ने सपाइयों के होश किए फाख्ता - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, December 7, 2020

खाकी के जोश ने सपाइयों के होश किए फाख्ता

पुलिस लाइन में धरने पर बैठे रहे सपाई, जमकर मचाया हो-हल्ला, बाद में पुलिस ने छोड़ा 

बांदा, के एस दुबे । समाजवादी पार्टी ने किसान विरोधी विधेयकों के खिलाफ हुंकार भरी थी। इसके चलते किसान यात्रा सपाइयों ने प्रस्तावित की थी। लेकिन पुलिस पहले से ही इतना सख्त नजर आई कि सपाइयों के घरों में पहुंच गई। वहां पर सपाइयों को या तो नजर बंद कर दिया या फिर गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार किए गए सपाइयों को पुलिस लाइन ले जाया गया। सपाई पुलिस लाइन में ही धरने पर बैठे रहे। बाद में देर शाम सपाइयों को छोड़ दिया गया। पुलिस लाइन में सपाइयों ने खूब हो-हल्ला भी मचाया। 

सपा कार्यालय के बाहर तैनात पुलिस और गेट पर बैठे सपाई

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के आह्वान पर सपाईयों ने सोमवार को जिला स्तर पर किसान यात्राएं निकालने का ऐलान किया और किसानों के आंदोलन को समर्थन करने का संकल्प लिया था। इस पर पानी फेरने के लिए सोमवार की सुबह से ही पुलिस प्रशासन मुस्तैद रहा और हर छोटे-बड़े सपाई को घर से ही गिरफ्तार कर लिया। शहर कोतवाल जयश्याम शुक्ला ने नगर पालिका चेयरमैन मोहन साहू को मर्दननाका से उठाया, वहीं जिलाध्यक्ष विजयकरन यादव को उनके घर पर ही पकड़ लिया। हालांकि बाद में दोनों नेताओं को देहात कोतवाली थाने में रखा गया। जबकि सुबह निर्धारित समय के अनुसार कार्यालय पहुंचे कार्यकर्ताओं को पुलिस ने ताला भी नहीं
इस तरह पुलिस ने सपाइयों को घेरा

खोलने दिया। वहीं पर घेर लिया। नाराज सपाईयों ने कार्यालय के बाहर ही धरना और नारेबाजी शुरू कर दी। बाद में सपाईयों को गिरफ्तार करके पुलिस लाइन ले जाया गया। वहां भी सपाईयों ने जमकर हो-हल्ला किया और पूरा दिन धरने पर बैठे रहे। सपाईयों ने सरकार से किसान विरोधी बिल वापस लेने की मांग बुलंद की। सपाईयों के धरना प्रदर्शन को लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह से एलर्ट रहा और शहर के प्रमुख चैराहों पर भारी पुलिस बल तैनात रहा। पुलिस लाइन में जिला उपाध्यक्ष अशोक श्रीवास, अशोक सिंह गौर, विद्यासागर तिवारी, सुशील त्रिवेदी, राजेंद्र यादव, पीयूष गुप्ता, निर्भय सिंह मोेंटी आदि तमाम सपाई मौजूद रहे। इधर,एक तरफ पुलिस की सख्ती और दूसरी तरफ सपाइयों की घोषित किसान यात्रा। जमकर लुकाछिपी का खेल चला। औपचारिकता पूरी करने के लिए चंद
सपा जिलाध्यक्ष आवास के बाहर तैनात पुलिस कर्मी

सपाई हाथ में झंडा-बैनर लेकर सड़क पर उतर आए और किसान विरोधी बिल के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए जमकर नारेबाजी की। चंद सपाईयों की एक टोली जहां महाराणा प्रताप चैक तो दूसरी टोली क्योटरा चैराहे से कचेहरी की ओर निकल पड़ी। हालांकि अशोक लाट तिराहे के पास सपाईयों के जत्थे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। यात्रा निकालने वाले सपाईयों में जिला उपाध्यक्ष प्रदीप यादव, प्रदीप जड़िया, पूर्व ब्लाक प्रमुख मनोज वर्मा, नंदकिशोर यादव, मो. हनीफ आदि शामिल रहे। गिरफ्तारी के दौरान सपाईयों और पुलिस के बीच तीखी नोक झोक हुई। वहीं सपा के राष्ट्रीय महासचिव राज्यसभा सांसद विशंभर प्रसाद निषाद को भी उनके घर पर ही नजरबंद किया गया है। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages