सपाईयों ने कृषि बिल के खिलाफ खोला मोर्चा, गिरफ्तार - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, December 7, 2020

सपाईयों ने कृषि बिल के खिलाफ खोला मोर्चा, गिरफ्तार

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। कृषि कानूनों को रद्द कराने के लिए राष्ट्रीय आवाहन पर किए गए धरना प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने सपाईयों को गिरफ्तार किया है। 

सोमवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय आवाहन पर जिलाध्यक्ष अनुज सिंह यादव की अगुवाई में कार्यकर्ताओं ने पुलिस को चकमा देते हुए बस स्टैन्ड पर जमकर सरकार विरोधी नारेबाजी कर धरना प्रदर्शन किया। जिलाध्यक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार ने पुलिस प्रशासन के दम पर सपाईयों की आवाज दबाया है। किसानों पर जबरन काला कानून थोपा जा रहा है। इस कानून से देश में मण्डी व्यवस्था खत्म होगी। खेती में निजी कंपनियां आयेंगें जो किसानों का कई प्रकार से शोषण करेगी। सरकार इन कानूनों के माध्यम से एमएसपी खत्म

सपाईयों को गिरफ्तार करती पुलिस।

करना चाहती है। खेत से किसानों का मालिकाना हक छीन कर उद्योगपतियेों को बढ़ावा देना मकसद है। केन्द्र की मोदी सरकार की उद्योगपति मित्रों को लाभ देने की योजना है। पूर्व विधायक वीर सिंह पटेल ने कहा कि सरकार को संविधान पर भरोसा नही है। संविधान जलाने वाले सरकार पर आ गए हैं। सपा कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित किया जाता है। 2022 में राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलश यादव के नेतृत्व में योगी सरकार को पलट देंगें। इस मौके पर मो गुलाब खां, रजनीश जोशी, नरेन्द्र यादव, मो लतीफ, राजीव लोचन त्रिपाठी, रामबाबू यादव, मंगल यादव, रोहित यादव, अनुज निगम, विनय, बुद्धराज, फूलचन्द्र पटेल, आशुतोष अग्रहरि, राजेन्द्र मौर्या, पवन पटेल, रामचन्द्र वर्मा, चंदन कोटार्य, सियाराम गुप्ता, साहबलाल द्विवेदी आदि सपाईयों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। 


नेताओं को घर से उठाया
चित्रकूट। प्रदेश व देश में विभिन्न संगठनों के धरने के ऐलान पर पुलिस पूरी तरह चैकन्ना नजर आई। नामचीन नेताओं को घर से उठा ले गए। सपा जिलाध्यक्ष ने पुलिस को चकमा देते हुए मुलायम नगर से बाइकों में सवार होकर नारेबाजी करते हुए पार्टी कार्यालय पहुंचे। जहां पुलिस पहले से ही सतर्क थी। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages