पंगत में बैठकर श्रद्धालुओं ने किया भोजन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, December 15, 2020

पंगत में बैठकर श्रद्धालुओं ने किया भोजन

सिमौनीधाम में भंडारे का पहला दिन 

बबेरू, के एस दुबे । मौनी बाबा धाम में आयोजित मेला प्रदर्शनी के पहले दिन स्वामी अवधूत महाराज ने पूजन अर्चन कर    साधु संतों को भोजन कराया। अवधूत महाराज के जयकारों से मौनी बाबा धाम गूंज उठा। आसपास गांवों समेत अन्य शहरों के श्रद्धालुओं ने मेला प्रदर्शनी के बाद पंगत में बैठ कर भोजन किया। 

बबेरू क्षेत्र के ग्राम सिमौनी पर मौनी बाबा धाम में तीन दिवसीय मेला प्रदर्शनी के पहले दिन स्वामी अवधूत महाराज ने हनुमान जी की पूजन अर्चन कर हवन की आहुतियां दी और पहली पंगत में साधु संतों को प्रसाद ग्रहण कराकर शुभारंभ किया। साधु सन्यासी बजरंग बली व स्वामी अवधूत महाराज का जयघोष करते हुए भोजन ग्रहण किया। इसके बाद आसपास के गांव सिमौनी, टोलाकला, पडरी, सिंहपुर, धौंसंड, तिन्दवारी, संहिगा, जसईपुर, माटापुरवा, मूगुंस, भिडौरा, अनौसा, पडरी, रगौली, मुरवल, हरदौली, जुगरेहली, गौरीखांनपुर, अहार, अछाह, व्योजा, बघैला,

सिमौनीधाम भंडारे में पंगत लगाकर प्रसाद ग्रहण करते श्रद्धालु

मझिवां, बदौली, केवटरा, निभौर, काजीटोला, पतवन, बबेरू, अनवान, कुचेंदू, पून, अनवान, अरथरा सहित हमीरपुर, महोबा, चित्रकूट, फतेहपुर ,इलाहाबाद व मध्यप्रदेश के कई जिलों से श्रद्धालुंओं के आने का सिलसिला जारी रहा। प्रसाद के 10 काउण्टरों में कोविड 19 के तहत समाजिक दूरी बनाकर  महिलाएं व पुरूष श्रद्धालु भक्तो प्रसाद ग्रहण कराते रहे और 2 काउण्टरों में अधिकारी कर्मचारी सहित श्रमदानियों को प्रसाद ग्रहण कराया जाता रहा। प्रथम दिन मालपुआ, जलेबी, पूडी सब्जी भोजन में वितरण जाता रहा । श्रद्धालु भक्त मौनी बाबा का जयकारा लगाते हुए समाधि में माथा टेकते और राष्ट्रीय मेला एवं प्रदर्शनी तथा नाटक का आनंद उठाते रहे। श्रमदानी सेवक अपने अपने काउण्टरों पर पंगत में बैठाकर श्रद्धालुओं को भोजन ग्रहण कराने में जुटे रहे। आलू धुलाई एवं आलू कटाई, सब्जी व पूडी बनाने में श्रमदानी सेवक अपनी जिम्मेदारी के साथ डटे रहे। दिल्ली, उज्जैन, आगरा, मथुरा व कानपुर के कारीगर भोजन बनाने में लगे रहे। दिल्ली से आए स्वामी जी के भक्त घूम घूम कर व्यवस्थाओं का जायजा लेते रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages