स्वास्थ्य बिन्दुओं में कमी पर प्रभारियों के खिलाफ करें कार्यवाही: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, December 16, 2020

स्वास्थ्य बिन्दुओं में कमी पर प्रभारियों के खिलाफ करें कार्यवाही: डीएम

विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक संपन्न

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।

जिलाधिकारी ने सामुदायिक शौचालय निर्माण, पंचायत भवन निर्माण, सड़कों के निर्माण, सेतुओ का निर्माण, सोलर सिंचाई पंप, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, धान खरीद, खाद्यान्न वितरण, अपशिष्ट प्रबंधन, नहरों की सिल्ट सफाई, कन्या सुमंगला योजना, पशुओं का टीकाकरण, मत्स्य पालन, औद्यानीकरण, ईयर टैगिंग, चिकित्सकों की उपलब्धता, आयुष्मान भारत योजना, मातृ वंदना योजना, परिवार नियोजन, हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर, टेलीमेडिसिन, बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम, जननी सुरक्षा योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, टीकाकरण, संचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी तथा ग्रामीण, हैंडपंपों के रिबोर, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, पेंशन  योजनाएं शादी अनुदान, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, पोषण अभियान, आंगनबाड़ी केंद्रों के निर्माण, वनीकरण, कौशल विकास, स्वरोजगार योजना, श्रम योगी मानधन योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, उर्वरक उपलब्ध आदि विभिन्न योजनाओं की बिंदुवार समीक्षा की।

बैठक में निर्देश देते डीएम।

जिलाधिकारी ने कहा कि मनरेगा कन्वर्जेंस में सभी संबंधित विभाग अपने कार्यों पर तेजी लाएं और अधिक से अधिक श्रमिकों को रोजगार दे। खनिज अधिकारी से कहा कि अवैध खनन के विरुद्ध कार्यवाही कराई जाए। परिवर्तन की कार्यवाही में उप जिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी के साथ नियमित रूप से जांच करें जो अवैध खनन पर पकड़े जाएं तो उनके खिलाफ कठोर कार्यवाही करें। अधिशासी अभियंता सिंचाई को निर्देश दिए कि टेल तक पानी पहुंचाने की व्यवस्था शुरू करें। ताकि किसानों को कोई समस्या न हो।  सड़कों के निर्माण व चैड़ीकरण के कार्यों पर लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि कार्यों की प्रगति बढ़ाएं। जिन सड़कों का निर्माण पूर्ण हो जाए तो तकनीकी टीम गठित कर जांच अवश्य कराएं। जिन सड़कों पर गड्ढे हैं उनको तत्काल ठीक करा दें। कहा कि जिन नई सड़कों के निर्माण कराए जा रहे हैं उसमें प्रगति नहीं है। सेतुओ के निर्माण कार्य की प्रगति बहुत खराब है। इस पर कार्य बढ़ाया जाए। उप निदेशक कृषि  को निर्देश दिए कि किसान सम्मान निधि के सुधार के कार्य को शत-प्रतिशत पूर्ण कर अधिक से अधिक किसानों को लाभ दिलाएं। प्लान तैयार कराकर फसल बीमा व किसान क्रेडिट कार्ड से बैंक व बीमा कम्पनी के साथ लाभान्वित करें। इसमें और विभागों की योजनाओं का भी प्रचार-प्रसार कराएं। जैबिक खेती व उन्नति खेती के प्रति कृषकों को जागरूक करें तथा कृषकों को प्रशिक्षण दिया जाए। निराश्रित गोवंश की समीक्षा पर खंड विकास अधिकारी गौशाला का संचालन सही तरीके से कराएं। हरा चारा, भूसा, पानी, ठंड से बचने को ढकने की व्यवस्था, अलाव व बोरा की व्यवस्था और पशु चिकित्सा अधिकारी गोवंश का स्वास्थ्य परीक्षण अवश्य करें। उन्होंने प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ इम्तियाज को निर्देश दिए कि सभी चिकित्सालय पर दवाओं आदि की व्यवस्था रहे। जिन स्वास्थ्य विभाग के बिंदुओं पर कमी आई है तो संबंधित प्रभारी चिकित्सा अधिकारी के विरुद्ध कार्यवाही कराई जाए। जिला पंचायत राज अधिकारी से कहा कि विद्यालयों के ऑपरेशन कायाकल्प की प्रगति बढ़ाई जाए। प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण व शहरी जो अधूरे हैं उन्हें तत्काल पूर्ण कराएं। उन्होंने आइजीआरएस की समस्याओं पर कहा कि शासन की मंशा के अनुरूप निस्तारित करें। जिलाधिकारी ने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो भी शासन की जन कल्याणकारी योजनाएं विभागों में संचालित है उनका अधिक से अधिक लाभ दिलाया जाए। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, प्रशिक्षु आईएफएस विकास यादव, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, परियोजना निदेशक अनय कुमार मिश्रा, जिला पंचायत राज अधिकारी संजय कुमार पांडेय सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages