गाय बचाओ, किसान बचाओ पदयात्रा पर कांग्रेसियों और पुलिस में तकरार - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, December 31, 2020

गाय बचाओ, किसान बचाओ पदयात्रा पर कांग्रेसियों और पुलिस में तकरार

पुलिस ने केन पुल के पास कांग्रेसियों को किया गिरफ्तार, जमकर नारेबाजी 

शहर के चप्पे-चप्पे पर रहा खाकी का सख्त पहरा 

बांदा, के एस दुबे । गुरूवार को केन नदी के तट पर एकत्र सैकड़ों कांग्रेस जनों पर पीएसी एवं भारी पुलिस बल ने बेरहमी से लाठियां बरसाई तथा हिरासत में लेकर अलग-अलग वाहनों में बैठाकर थानों में ले गये और नजरबंद कर 

कांग्रेसियों को गिरफ्तार करती पुलिस

दिया। मालुम हो कि गुरुवार को केन नदी तट से गाय बचाओ, किसान बचाओ पदयात्रा निकालने जा रहे थे। कार्यक्रम का नेतृत्व करने प्रदेश के कई गणमान्य नेता एक दिन पूर्व से ही बांदा आ गये थे।

केन तट पर महिला कांग्रेस पदाधिकारियों को गिरफ्तार करती पुलिस

कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजेश दीक्षित ने बताया कि केन नदी तट पर गुरूवार की सुबह से ही कांग्रेस जनों की भीड़ उमड़ने लगी थी। अतर्रा निवासी रमेश चन्द्र कोरी, नरैनी क्षेत्र के दर्जनों पूर्व प्रधानों, बीडीसी सदस्यों एवं अपने
कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजेश दीक्षित व अन्य पदाधिकारियों को रोकती पुलिस

समर्थकों को लेकर चार पहिया वाहनों से पहुंच गये थे। सर्वप्रथम केन नदी तट पर प्रदेश स्तर के वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति में जिलाध्यक्ष राजेश दीक्षित ने रमेश चन्द्र कोरी एवं उनके समर्थकों को कांग्रेस में शामिल किये जाने की
गिरफ्तारी के बाद गिरवां थाने में खड़े कांग्रेसी

घोषणा की। जैसे ही कांग्रेस जन गाय बचाओ, किसान बचाओ, भाजपा हटाओ, प्रदेश बचाओ, देश बचाओ के नारे लगाने लगे, तभी भारी पुलिस बल लाठियां लिये कांग्रेस जनों पर टूट पडी। लाठियां चलाकर तितर बितरे करने की
अतर्रा चुंगी चैकी पर तैनात पुलिस बल



कोशिश की गई। लेकिन कांग्रेसी इधर उधर नही हुये तो पुलिस ने उन्हे हिरासत में लेकर पुलिस वाहनों में भरना शुरू कर दिया। इसके बाद सभी लोगों को अलग-अलग थानो में ले जाकर नजरबंद कर दिया। उपाध्यक्ष योगेश
प्रदर्शन करते कांग्रेस पदाधिकारीगण

दीक्षित, महासचिव राहुल राय, प्रतिभा पाल महिला प्रदेश उपाध्यक्ष, अभिमन्यु सिंह, साकेत बिहारी मिश्र, रमेशचन्द्र कोरी, राजेश दीक्षित सहित डेढ़ सैकड़ा से अधिक कांग्रेसियों को गिरवां थाने में नजरबंद किया गया। प्रदेश सचिव
महिला पदाधिकारियों को गिरफ्तार कर ले जाती पुलिस

अखिलेश कुमार शुक्ला, जिला उपाध्यक्ष बी लाल, चन्द्रपाल वर्मा, धीरेन्द्र पटेल, माताबदल, दानेन्द्र सिंह, जगन्नाथ सिंह, कैलाश बाजपेई, रमेश साहू आदि को देहात कोतवाली में नजरबंद कर दिया।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages