प्रवासी श्रमिकों एवं बेरोजगारों को हर हाल में उपलब्ध करायें रोजगार: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, December 10, 2020

प्रवासी श्रमिकों एवं बेरोजगारों को हर हाल में उपलब्ध करायें रोजगार: डीएम

मनरेगा मजदूरों का समय पर कराया जाये भुगतान 

फतेहपुर, शमशाद खान । जनपद में आए प्रवासी श्रमिकों व बेरोजगारो के व्यापक हित एवं उनके सामाजिक तथा आर्थिक सुरक्षा के साथ सर्वांगीण विकास के उद्देश्यों के प्राप्ति हेतु जिला स्तर पर गठित समिति की बैठक विकास भवन सभागार में जिलाधिकारी संजीव सिंह की अध्यक्षता में संपन्न हुई। उन्होंने सभी विभागों द्वारा जनपद में किये जा रहे कार्याे से सृजन हो रहे रोजगार मंे गतिशीलता लाने एवं रोजगार के सृजन में वृद्धि कर सभी प्रवासी श्रमिकों एवं बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध कराने हेतु दिशा निर्देश दिए। 

बैठक में भाग लेते जिलाधिकारी संजीव सिंह व अन्य।

जिलाधिकारी ने कहा कि प्रदेश सरकार के विभिन्न विभागों, संगठनों, स्वयंसेवी संस्थानों, निगमों, परिषदों, प्राधिकरण के माध्यम से एक समन्वित रूप से प्रवेश में युवाओं हेतु रोजगार/स्वरोजगार के सृजन के साथ ही कौशल प्रशिक्षण तथा अप्रेंटिसशिप, भूमि आवंटन, विभिन्न प्रकार के लाइसेंस व अनुमतियों के माध्यम से अधिक से अधिक रोजगार/स्वरोजगार के अवसरों का सृजन किए जाने हेतु 5 दिसंबर से मिशन रोजगार के नाम से एक विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इस हेतु सभी विभागों में रोजगार हेल्प डेस्क स्थापित करने सेवायोजन में ऑनलाइन पंजीयन हेतु अभ्यर्थियों को प्रेरित करने एवं उसका डाटा बेस तैयार करने हेतु पंजिका बनाने के निर्देश दिए। शासन के निर्देशानुसार श्रम विभाग द्वारा व्यवस्था दी गई है कि विभागों द्वारा चयनित सेवा प्रदाता का सेवायोजन पोर्टल पर अपना पंजीकरण कराने के उपरांत रिक्तियों सेवायोजन पोर्टल पर अपलोड की जाएगी। नए सेवा प्रदाता का चयन यथाशीघ्र कर लिया जाए क्योंकि अक्टूबर 2020 के बाद पुराने सेवा प्रदाता की सेवा नही ली जाएगी। माह जनवरी 2021 में शासन की मंशा के अनुरूप 4 जनवरी 2021 को रोजगार मेला आयोजित करने हेतु सभी संबंधित विभाग से संबंध स्थापित कर कार्यक्रम को सफल बनाने तथा बेरोजगार अभ्यर्थियों को अधिकाधिक रोजगार उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए। मनरेगा कन्वर्जेंस के अंतर्गत निर्देश दिए कि सभी मजदूरों को 100 दिन का रोजगार अवश्य दिया जाए और उसके सापेक्ष ही मास्टर रोल जारी किया जाएं। मनरेगा कन्वर्जेंस के तहत विभिन्न विभागों को आवंटित कार्यों के सभी कार्यों का कराने के निर्देश दिए। सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि मनरेगा श्रमिकों का भुगतान समय पर करना सुनिश्चित करें। यदि विलम्ब से भुगतान किया जाता है तो इसके लिए जिम्मेदारी तय करते हुए संबंधित अधिकारियों के वेतन से वसूली की जाएगी। कौशल विकास मिशन आईटीआई द्वारा पंजीयन पोर्टल पर प्रशिक्षण प्राप्त अभ्यर्थियों का पंजीयन एक माह के भीतर करने के निर्देश दिए गए। कौशल विकास मिशन के तहत कुल 3166 परीक्षार्थियों को शिक्षा देने का लक्ष्य है जिसमें ब्रिज कोर्स के तहत 1066 के सापेक्ष 900 प्रशिक्षार्थियों का चयन किया गया है। जबकि अन्य कोर्स के तहत 2100 प्रशिक्षार्थियों को प्रशिक्षण दिया जाना है। जिसके पश्चात उनको रोजगार मेले के माध्यम से रोजगार के अवसर उपलब्ध कराया जाना है। सहायक श्रमायुक्त ने बताया कि नए प्रावधान के तहत उन सभी श्रमिकों का ऑनलाइन पंजीयन विभाग की वेबसाइट पर किया जाएगा। जिन्होंने स्वघोषणा कर यह बताया कि पिछले एक वर्ष में 90 दिनों तक कार्य कर लिया है। जनपद में श्रमिकों का पंजीयन कम पाए जाने पर जिलाधिकारी ने असंतोष व्यक्त करते हुए सहायक श्रमायुक्त को निर्देशित किया कि विभिन्न विकास खंडों में वृहद अभियान चलाकर जनपद के श्रमिकों का पंजीयन कराना सुनिश्चित करें। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश, उप निदेशक कृषि प्रसार, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत, प्रबंधक लीड बैंक, उपायुक्त जिला उद्योग केंद्र, जिला सेवायोजन अधिकारी सहित संबंधित उपस्थित रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages