पर्यटन स्थलों के सुन्दरीकरण में लाएं तेजी: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, December 10, 2020

पर्यटन स्थलों के सुन्दरीकरण में लाएं तेजी: डीएम

पर्यटन व विकास को लेकर समीक्षा बैठक 

सुखेन्द्र अग्रहरि, चित्रकूट। जिलाधिकारी पुलिस अधिक्षक की मैजूदगी में  पर्यटन समेकित विकास समित की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुयी।डीएम ने बिभागा अध्यक्षो कांे कार्य में तेजी लाने के र्निदेश दिए।

गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय तथा पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल की उपस्थिति में चित्रकूट पर्यटन के समेकित विकास के कार्यो पर डीएम ने कहा कि पर्यटन विकास पर शासन का विशेष फोकस है। यह शासन के मुख्य प्राथमिक बिंदुओं पर है, जिसको देखते हुए सभी विभाग अपने कार्यों पर तेजी लाएं। पुरातत्व विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोठी तालाब, मिनी खजुराहो गणेश बाग, सोमनाथ मंदिर, श्रषियन आश्रम सहित अन्य पुरातत्व विभाग के जो क्षेत्र हैं उनका सुंदरीकरण कराया जाना है। उसमें पर्यटन अधिकारी के साथ भ्रमण करके प्राक्कलन तैयार किया जाए। गणेश बाग के सुंदरीकरण पर पार्क, पेयजल, पथ मार्ग, प्रकाश व्यवस्था, बैठने के लिए बेंच आदि की व्यवस्था के लिए पर्यटन अधिकारी मुख्य विकास अधिकारी के साथ बैठकर प्रस्ताव तैयार करा कर शासन को भेजे जिससे धनराशि अवमुक्तद होते ही सुंदरीकरण कार्य कराया जा सके।पुरातत्व विभाग के अधिकारियों से यह भी कहा कि जो पौराणिक धरोहर हैं उनकी सूची भी उपलब्ध कराएं

समीक्षा बैठक में निर्देश देते डीएम।

और जहां पर कार्य करा रहे हैं उसकी भी जानकारी दे। कोठी तालाब के पास जो पार्क का निर्माण के लिए नगर पालिका अधिशासी अधिकारी को र्निदेश दिए कि प्रस्ताव बना कर परिषद को उपलब्ध कराए।ं फूड प्लाजा की दुकानों का आवंटन तत्काल करा दिया जाए। उप जिलाधिकारी कर्वी, अधिशासी  अभियंता लोक निर्माण विभाग से कहा कि इनके कार्यों की तकनीकी जांच कर रिपोर्ट उपलब्ध कराएं। फुट ओवरब्रिज के निर्माण की समीक्षा पर कहा कि यह कार्य माह अक्टूबर 2020 में पूर्ण हो जाना चाहिए लेकिन अभी तक कार्य पूर्ण नहीं हुआ है इस संबंध में परियोजना प्रबंधक राजकीय निर्माण निगम का जवाब तलब किया जाए। उन्होंने कहा कि आरती स्थल राम घाट पर सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त करा दी जाए तथा चोपड़ा तालाब पर फव्वारा की व्यवस्था कराएं। उनमें अधिशासी अभियंता विद्युत को  फटकार लगाते हुए कहा कि जहा- जहा विद्युत पोल बीच  मे है। उन्हें तत्काल हटाए उन्होंने प्रमुख चैराहों के सुंदरीकरण, साउंड एंड लाइट शो, भजन संध्या स्थल, पार्किंग स्थल, आरती स्थल रामघाट, चोपड़ा तालाब, बाल्मीकि आश्रम के जीर्णोद्धार, नए स्थानों के चयन व निर्माण, सीसीटीवी, ध्वनि विस्तारक यंत्र, भव्य स्वागत द्वार, प्राथमिक उपचार स्थल के बारे में भी र्चचा की बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, अपर जिलाधिकारी जी पी सिंह, चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, उप जिलाधिकारी कर्वी  राम प्रकाश, प्रभागीय वनाधिकारी कैलाश प्रकाश, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, डीसी एनआरएलएम राम उदरेज यादव, पर्यटन अधिकारी शक्ति सिंह सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages