बाण सागर से मंदाकिनी को जोडने पर की चर्चा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, November 1, 2020

बाण सागर से मंदाकिनी को जोडने पर की चर्चा

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष से भेंट कर बुन्देली सेना ने सौपा पत्र

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह से लखनऊ स्थित आवास में भेंट कर बुन्देली सेना जिलाध्यक्ष ने मंदाकिनी नदी को बाण सागर से जोड़े जाने समेंत जन समस्याओं पर चर्चा की।

बुन्देली सेना के जिलाध्यक्ष अजीत सिंह ने बताया कि करोड़ों श्रद्धालुओं की आस्था से जुड़ी मंदाकिनी नदी को बचाने के लिए यह जरूरी है कि नदी जोड़ो परियोजना में मंदाकिनी को भी शामिल किया जाये। बाण सागर से जुड़ने या नर्मदा नदी का पानी मंदाकिनी में मिलाना जरूरी है। गर्मी के दिनों में लगभग 20 किमी नदी सूख जाती है। लखनऊ जाकर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह से मंदाकिनी को लेकर चर्चा हुई। मांग की है कि नदी सफाई

प्रदेश अध्यक्ष को स्मृति चिन्ह भेंट करते जिलाध्यक्ष।

के लिए सिंचाई विभाग से एक मशीन भी क्रय कराई जाए। नदी किनारे वृक्षारोपण और मंदाकिनी के जलीय जीवों के संरक्षण की योजना बने। इसके अलावा वॉटर एटीएम, सिटी बस सेवा, तीर्थक्षेत्र में बेड़ीपुलिया, शिवरामपुर, भरतकूप में हाइवे किनारे भव्य तोरणद्वार, इलेक्ट्रिक शवदाह गृह, मुक्तिधाम स्थलों का विकास और जनहित से जुड़ी तमाम अन्य मांगों को लेकर चर्चा कर पत्र सौंपा है। बताया कि इस समय यूपी-एमपी और केंद्र में भाजपा की सरकार है। केन-बेतवा लिंक परियोजना को हरी झंडी मिल चुकी है। अब मंदाकिनी को नदी जोड़ो में शामिल किए जाने से लाखों क्षेत्रीय लोगों समेत करोड़ों श्रद्धालुओं को लाभ मिलेगा। इस पर प्रदेश अध्यक्ष ने जन समस्याओं के समाधान की दिशा में पहल किए जाने का भरोसा दिया है। इस दौरान बुन्देली सेना टीम के जानकी शरण गुप्ता, अतुल सिंह मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages