कश्मीर का गुपकार महागठबंधन आतंकवादी संगठन घोषित हो............... - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Sunday, November 22, 2020

कश्मीर का गुपकार महागठबंधन आतंकवादी संगठन घोषित हो...............

देवेश प्रताप सिंह राठौर 

(वरिष्ठ पत्रकार)

....श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री व नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने अनुच्छेद 370 को लेकर विवादित बयान देते हुए कहा कि इसकी बहाली में चीन से मदद मिल सकती है. इसके अलावा उन्होंने मोदी सरकार के इस कदम का समर्थन करने वालों को गद्दार बताया है. फारूक अब्दुल्ला ने रविवार को कहा कि एलएसी पर जो भी तनाव के हालात बने हैं, उसका जिम्मेदार केंद्र का वो फैसला है जिसमें जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को खत्म किया गया था. एवं आर्टिकल ए सीमा पर गतिरोध के बीच एलएसी पर रडार स्थापित कर रहा चीन, पैनी नजर बनाए हुए है चीन ने कभी भी अनुच्छेद 370 खत्म करने के फैसले का समर्थन नहीं किया है और हमें उम्मीद है कि इसे (आर्टिकल 370) को फिर से चीन की ही मदद से बहाल कराया जा सकेगा."चीन कौन होता है जो भारत के अंदर जो भारत सरकार कर रही है उसमें हस्तक्षेप करने के लिए चीन की क्या औकात है और चीन सिर्फ फारूक अब्दुल्लाह मदद मांग रहे हैं यह देश के गद्दार है उनको तुरंत देश से काला मुंह करके उनको यहां से भगाने की जरूरत है। चीन ने अमेरिका समेत पश्चिमी देशों को दी धमकी- दूर रहो, नहीं तो 'आंखें फोड़कर कर देंगे अंधा'


उन्होंने ये भी कहा कि वास्तविक नियंत्रण रेखा एलओसी पर तनाव की जो भी स्थितियां बनी हैं, वह 370 के अंत के कारण बनी हैं. फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि 5 अगस्त 2019 को 370 को हटाने का जो फैसला लिया गया, उसे कभी स्वीकार नहीं किया जा सकता. Also चीन भारत से चीन में भेजी मछली के पैकेट्स पर मिला कोरोना वायर फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि मैंने कई मंचों पर अपने राष्ट्र का बचाव किया है. मैं मैं कहता हूं फारूक अब्दुल्ला महबूबा मुफ्ती और इनके साथ और इनके द्वारा बनाया गया संगठन में घुसे लो यह सब देशद्रोही है धारा 370 आर्टिकल अगर कांग्रेश फारूक अब्दुल्ला महबूबा मुफ्ती यह सभी पार्टियां जो मां गठबंधन के रूप में तैयार हुई है यह अपने चुनाव में घोषित करें कि हम अपने कार्यक्रम में चुनाव का जो एजेंडा होता है उसमें धारा 370एवम्उ आर्टिकल में अंकित करें कि मेरी सरकार आई  या फारूक अब्दुल्ला क गुमगार महागठबंधन घोषित करे। राष्ट्र में और राज्य में अगर उपकार संगठन की सरकार आई धारा 370 35a आर्टिकल हटवाने की बात अपने चुनाव एजेंडे में से शामिल करके जनता के सामने ले जाने की हिम्मत रखें की मुफ्ती मोहम्मद सईद की बेटी महबूबा मुफ्ती की तो हम यह धारा 370 आर्टिकल 35a हटाएंगे अगर उनमें हिम्मत हो तो यह घोषित करके दिखाएं देश की जनता उनको बता देगी कि भारत आज आर्टिकल 35a हटाए जाने कि जो भी पार्टी गुम कार गठबंधन का साथ देगा उसका विनाश पार्टी का निश्चित होना है और देश उस पार्टी को गुमकार को आतंकवादी संगठन घोषित करने की पात्र सूची करेगी और पार्टी समाप्त हो जाएगी मैं यह मेरा पूर्ण रुप से विश्वास है।

फारूक अब्दुल्ला ने एक राष्ट्रीय पत्रिका में अपने विवादित बयान दिया है जम्मू कश्मीर के संबंध में है बहुत ही स्पष्ट तौर पर दिखाई दिया कि यह ग्रुप कार संगठन एक राष्ट्र विरोधी संगठन के रूप में एकत्रित होकर देश की एकता अखंडता के लिए बहुत बड़ा खतरा बनने जा रहे हैं फारूक अब्दुल्ला ने दी प्रतिक्रियाअब्दुल्ला ने कहा- जो बीजेपी में नहीं है, वो राष्ट्र विरोधी हैअमित शाह ने गुपकार समूह को गुपकार गैंग कहा था

गृह मंत्री अमित शाह की ओर से गुपकार एलायंस को गुपकार गैंग करार देने वाले बयान पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला की प्रतिक्रिया आई है. इंडिया टुडे से बातचीत में पूर्व सीएम ने कहा कि गृह मंत्री का ये कहना, बहुत दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण है. मुझे नहीं लगता है कि उन्होंने फारूक अब्दुल्ला के इतिहास को पढ़ा है.

फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि मैंने कई मंचों पर अपने राष्ट्र का बचाव किया है. मैं राष्ट्र विरोधी नहीं हो सकता. बीजेपी की एक मात्र समस्या है, जो उनके साथ नहीं है वो राष्ट्र विरोधी है और जो बीजेपी में है वो देश भक्त है. गुपकार केवल कश्मीर घाटी या मुसलमानों के बारे में नहीं है.

पीडीपी चीफ के झंडे वाले बयान पर फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि हमने झंडा ऊंचा रखा है. मेरी पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ता मारे गए हैं. वे किसके लिए मर गए? भारत के लिए. क्या दिल्ली और कश्मीर के बीच विश्वास की कमी है?मैं फारूक अब्दुल्ला को बताना चाहता हूं यह जो लोग मरे हैं झंडे के लिए जिसको झंडा फारूक अब्दुल्ला महबूबा मुफ्ती सईद ने बनाकर तैयार किया है इस झंडे के लिए उन्होंने आतंकवाद का सहारा ले रहे हैं तथा उसके साथ चीन और पाकिस्तान जैसे गद्दारों का भीख मांग रहा है फारूक अब्दुल्लाह कि हमारी मदद करो धारा 370 35a आर्टिकल कश्मीर में लगना चाहिए एक कतार फारूक अब्दुल्ला में हुआ मुक्ति समझने हे जिंदगी में कभी भी इनके ख्वाब पूरे होने वाले नहीं है अगर हिम्मत है तो अपने एजेंडे में इस विषय को शामिल करें चुनाव में जनता के सामने आए पर उन्होंने कहा कि क्या उन्होंने विश्वास पैदा करने की कोशिश . आज, हम देश विरोधी हैं. हम भारत के साथ खड़े हैं, हम भारत के साथ खड़े रहेंगे. यह नाटक फारूक अब्दुल्ला करता है हम भारत के हैं मैं दावे के साथ कहता हूं यह भारत का नहीं है ना ही महबूबा मुफ्ती नाही फारूक अब्दुल्लाह भारत के है यह से पाकिस्तान और आतंकवादियों के लिए एक सफेद पोसी राजनीति के एक पहलू हैं

कांग्रेस पार्टी को लेकर पूर्व सीएम ने कहा कि गृह मंत्री ने कांग्रेस को एक कोने में खड़ा करने की कोशिश की है. वो एक राष्ट्रवादी पार्टी है. कांग्रेस स्पष्ट है कि अनुच्छेद 370 को बहाल किया जाना चाहिए, राज्य का दर्जा दिया जाना चाहिए. बता दें कि हाल ही में गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर के गुपकार गुट को गुपकार गैंग करार दिया था. अमित शाह ने कांग्रेस नेतृत्व से सवाल करते हुए कहा है कि ये गैंग जम्मू-कश्मीर में विदेश में विदेशी ताकतों का दखल चाहता है, हमारे राष्ट्र ध्वज का अपमान करता है? क्या सोनिया और राहुल गांधी इसका समर्थन करते हैं? अमित शाह ने कहा था कि वे गुपकार गुट को कहना चाहते हैं कि ये लोग देश के मूड के साथ चलें, वर्ना खत्म हो जाएं

इससे पहले, दोपहर में फारूक अब्दुल्ला और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष जीए मीर की मुलाकात हुई। इसके बाद अब्दुल्ला ने कहा कि कांग्रेस अभी भी गुपकार एलायंस का हिस्सा है। जिला विकास परिषद DDCचुनाव भी हम साथ लड़ेंगे। अब्दुल्ला का यह बयान कांग्रेस के उस फैसले के बाद आया है, जिसमें पार्टी ने DDC चुनाव में अलग से उम्मीदवार उतारने का ऐलान किया है।28 नवंबर से शुरू हो रहा DDC चुनावजम्मू-कश्मीर में 28 नवंबर से जिला विकास परिषद (DDC) चुनाव होने हैं। इसमें पीपुल्स एलायंस फॉर गुपकार डिक्लेरेशन (PAGD) भी अपने उम्मीदवार उतारेगी। पिछले दिनों एलायंस के सज्जाद लोन ने कहा, ''5 अगस्त 2019 के फैसले को लेकर जम्मू कश्मीर की आवाम नाराज है। लोग गुस्से में हैं। इसलिए भाजपा और केंद्र की सरकार से जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा वापस मिलने तक लड़ाई जारी रहेगी।''भाजपा ने गुपकार एलायंस को कहा था 'गप्पा-कार'

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुग ने पिछले दिनों गुपकार समझौते को 'गप्पा-कार' करार दिया था। उन्होंने कहा था कि गुपकार 'गप्पा-कार' है। उनके मुंगेरी लाल के सपने कभी सच नहीं होने वाले हैं। अब्दुल्ला एंड संस और मुफ्ती एंड संस ने जम्मू-कश्मीर के संसाधनों को लूटा है। मैं कश्मीर के क्षेत्रीय दलों को चेतावनी देता हूं और उन्हें यह सलाह देता हूं अगर आप खूब कार संगठन बना रहे हैं तो चुनाव में अपना धारा 370 35a आर्टिकल हटाने की बात अवश्य लिखें अगर देश को मूर्ख बना रहे हो तो अपने एजेंडे में इसको शामिल नहीं करोगे अगर वास्तव में आप देश के अच्छे गद्दार और हिम्मत वाली पार्टी हो तो घूम कार संगठन महागठबंधन यह अपना चुनाव के समय यह शब्दों का उच्चारण कर इसे लागू करें।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages