बिदोखर में पेयजल आपूर्ति ठप - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Wednesday, November 11, 2020

बिदोखर में पेयजल आपूर्ति ठप

पानी को भटक रहे बाशिंदे

 हमीरपुर, महेश अवस्थी  । सुमेरपुर विकास खंड क्षेत्र की घनी आबादी वाली ग्राम पंचायत बिदोखर की दोनों ग्राम पंचायतों में 3 वर्ष पूर्व लोहिया समग्र ग्राम विकास योजना के तहत उत्तर प्रदेश जल निगम की पहल से 5-5 हजार लीटर सोलर पैनल की पानी की टंकियों को प्रधानों की देखरेख में गांव के उचित स्थानों में उनका निर्माण व उन्हें व्यवस्थित करवाया गया था। जिससे स्थानीय लोग सहित ग्रामीण इस परियोजनाका लाभ उठा सके।गांव के योग शुभारंभ से अत्यंत खुश थे । अब उन्हें पेयजल के लिए इधर उधर भटकना नही पड़ेगा।  समस्या का भी लगभग हल हो गया था। लोगों को पर्याप्त मात्रा पानी में मिल रहा था। लेकिन अब मेंदनी ग्राम पंचायत का तो ठीक ही ठीक है, लोग जैसे तैसे वही टंकी के हैंडपंप से अपनी पेयजल आपूर्ति कर रहे हैं। लेकिन पुरई ग्राम पंचायत के अंतर्गत आने वाली पानी की टंकी की पेयजल व्यवस्था बीते कई दिनों से पूर्ण रूप से धड़ाम पड़ी है। स्थानीय बाशिंदे पानी के लिए इधर उधर भटकने को मजबूर हो गए हैं। पानी को तरस रहे हैं, स्थानीय लोगों में पेयजल की किल्लत  से लोग हताश निराश हैं। पेयजल आपूर्ति की समस्या की पूर्ण जानकारी लेने पर पुरई ग्राम पंचायत के ग्राम प्रधान चंद्रप्रकाश यादव ने बताया कि मैंने इस संबंध में शासन प्रशासन सहित उत्तर प्रदेश जल निगम को कई दफे


समस्या से रुबरू करवाया  है। लेकिन सुनवाई के नाम पर स्थानीय लोगों सहित ग्रामीणों को हर दफे निराशा ही हांथ लगी है। गौरतलब है कि कई बार अवगत करवाने पर भी आलाधिकारी समस्या का जायजा लेने तक नहीं आए हैं ।उन्होंने बताया कि मैंने एक बार गांव के मिस्रियों से कहकर टंकी को खुलवाकर देखा था ,तो उसमें पानी की टंकी की पूरी वायरिंग व सोलर पैनल मोटर ध्वस्त हो चुका है। जिससे पानी की टंकी की समस्या गड़बड़ा गई है। इसके ठीक करवाने का जिम्मा उत्तर प्रदेश जल निगम का ही है ,क्योंकि इस परियोजना का ग्राम पंचायत व उसके विकास से दूर दूर तक कोई वास्ता नहीं है ,नहीं तो गांव के विभिन्न हैंडपंपों जैसे सामान मुहैया करवाकर पेयजल आपूर्ति को तुरंत सुचारू रूप से चालू करवाया जाता। ग्राम प्रधान ने यहां तक कहा कि अगर ये सिलसिला ऐसे ही चलता रहा तो मैं ग्रामीणों के सहयोग से उत्तर प्रदेश जल निगम, अधिशाषी अभियंता जल संस्थान व अन्य आला अफसरों से विरोध प्रदर्शित किया जाएगा। शोभित गुप्ता ने उत्तर प्रदेश जल निगम के अधिकारियों को गंभीर समस्या का दोषी ठहराते हुए बताया कि ग्रामीणों के सहयोग से मैंने टॉल फ्री नंबर द्वारा उत्तर प्रदेश जल निगम के अधिकारियों से संपर्क साधा था, जिसमें अधिकारियों ने समस्या का समाधान का कोरा आश्वासन दिया।कहा था कि सोलर पैनल पानी की टंकी  को सुचारू रूप से चालू करवाकर पहले से बेहतर व्यवस्था की जाएगी।लेकिन अब लॉक डाउन का असर ग्रामीण क्षेत्रों में कम है, तो समस्या का समाधान करने की कोई फ़िक्र नहीं है । ग्रामीणों में प्रदीप गुप्ता,विनोद कुमार, सुरेश कुमार, कमलेश कुमार, महेश कुमार, उदयभान साहू, शिवमोहन साहू, सुनील सविता  ने समस्या के समाधान को लेकर कहा कि अगर इस प्रकरण में जल्द से जल्द से सुनवाई नहीं की गई, तो हम रोड जामकर उत्तर प्रदेश जल निगम के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने को तैयार बैठे हैं।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages