गुणवत्ता में न किया जाए समझौता: आयुक्त - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, November 10, 2020

गुणवत्ता में न किया जाए समझौता: आयुक्त

भारी वाहन निकलने के लिए रोड का मैप बनाया जाए 

कांशीराम पार्क को नियमानुसार प्लाट में बदलें 

बांदा, के एस दुबे । पंडित दीनदयाल पुरम आवास योजना एवं तुलसी नगर आवासीय योजना का मंडलायुक्त गौरव दयाल एवं जिलाधिकारी आनंद कुमार सिंह ने निरीक्षण किया। मंडलायुक्त विकास प्राधिकरण सचिव सुरेंद्र सिंह से जानकारी प्राप्त की कि अभी तक कार्य क्यों अविलंब से प्रारंभ किया गया। इसका कारण स्पष्ट किया जाए और जो भी कार्य किया जाए तो क्वालिटी पूर्ण किया जाए। एक तरफ छोटी गाड़ियों के निकलने के लिए रोड तथा एक तरफ भारी एवं लोडेड वाहन निकलने के लिए रोड का मैप बनाया जाए। उन्होंने कहा कि सिर्फ कागजी कार्यवाही न की जाए। जमीनी स्तर पर कार्य किया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि कांशीराम पार्क को नियमानुसार प्लाट में बदलने का कार्य किया जाए। क्योंकि पार्क की लोकेशन सही जगह नहीं हैं, जिससे इस पार्क में लोगों का आवागमन बिल्कुल भी नहीं होता है। लोगों के उपयोग में नहीं आ रहा है। इसको प्लाटों में कन्वर्ट किया जाए।

आवासीय योजना का निरीक्षण करते आयुक्त गौरव दयाल

मंडल आयुक्त श्री गौरव दयाल पंडित दीनदयाल ग्राम आवासीय  योजना में जानकारी प्राप्त करते हुए कहा कि वर्तमान लीज प्लान के अनुसार भूखंड कितने हैं तथा आवंटित भूखंडों की संख्या एवं आवंटित अवशेष भूखंड तथा न्यायालय को छोड़कर आवंटित अवशेष भूखंड की संख्या बताई जाए तो विकास प्राधिकरण सचिव के द्वारा बताया गया कि प्लीज प्लान के अनुसार भूखंड संख्या 429 अब तक आवंटित भूखंडों की संख्या 73 और कुल रजिस्ट्री 2 हैं । आवंटित अवशेष भूखंड 356 तथा न्यायालय को छोड़कर आवंटित अवशेष भूखंड 356 है।ठेकेदार को कार्य अभिलंब से प्रारंभ करने के लिए नाराजगी व्यक्त करते हुए उससे विस्तार पूर्वक जानकारी प्राप्त की । तो ठेकेदार के द्वारा मंडलायुक्त को बताया गया कि मिट्टी का प्रमाण पत्र मांगा जा रहा था।जो मैं नहीं दे सका इसके लिए कार्य में अभिलंब हुआ है। मंडलायुक्त ने कहा कि यदि ऐसी बात थी तो हमारे समक्ष बात रखनी चाहिए थी या फिर  जिलाधिकारी को अवगत कराना चाहिए आपने ऐसा नहीं किया इसके लिए आपके खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पूरे ग्राउंड से कूड़े का उठान करवाया जाए तथा साफ सफाई एवं पेड़ों की कटाई छटाई झाड़ियों कि सफाई आदि कराया जाए। इसी प्रकार तुलसी आवासीय योजना के अंतर्गत मंडलायुक्त एवं गौरव दयाल तथा जिलाधिकारी आनंद कुमार सिंह ने वर्तमान भूखंड की संख्या तथा कुल आवंटित भूखंडों की संख्या एवं कुल रजिस्ट्री आवंटित भूखंड, आवंटित अवशेष भूखंड की संख्या विकास प्राधिकरण सचिव से ली। विकास प्राधिकरण सचिव के द्वारा बताया गया कि भूखंड की संख्या 527, तथा कुल आवंटित भूखंडों की संख्या 435, और जो रजिस्ट्री करवाए गए हैं। उनकी संख्या 260 आवंटित अवशेष भूखंड 175, विचाराधीन उच्च न्यायालय में 30, तथा आवंटित अवशेष भूखंड 145, हैं।

आयुक्त ने तुलसीनगर आवासीय पार्क को डेवलप करने के लिए नगर पालिका को दायित्व सौंपा है। तथा पार्क के अंदर पेड़ों की कटाई सफाई तथा पार्क में माली रखने के भी निर्देश दिए हैं। और सभी इंजीनियरों को अलग-अलग कार्य एवं दायित्व सौंपने के निर्देश प्राधिकरण सचिव को दिए हैं। जिससे कार्य में प्रगति लाई जा सके। जिलाधिकारी आनंद कुमार सिंह ने निरीक्षण के दौरान नालियां टूटी पाए जाने पर उनकी पुनः मरम्मत कराए जाने हेतु निर्देशित किया तथा सड़क के किनारे जो सीमेंट की ईट बिछाई गई थी उनको दोबारा बीच-बीच में पैटर्न चेंज कर कलर्ड ईट  लगाए जाने हेतु निर्देशित किया। जिससे यहा के आवासों की सड़कें शोभायमान लगे।उन्होंने कहा कि अब कार में शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। निरीक्षण में उपस्थित उप जिलाधिकारी सदर श्री सुधीर कुमार सहित विकास प्राधिकरण स्टॉप उपस्थित रहा। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages