करवाचौथ पर सजने-संवरने की महिलाओं में दिखी होड़ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, November 3, 2020

करवाचौथ पर सजने-संवरने की महिलाओं में दिखी होड़

ब्यूटी पार्लरों में मेंहदी व मेकअप के लिए रही मारामारी 

बाजार में भी उमड़ी भीड़, श्रृंगार सामग्री की जमकर हुई खरीददारी

फतेहपुर, शमशाद खान । अपने पति की लम्बी दीर्घायु के लिए मनाया जाने वाले वाले करवाचैथ के पर्व पर महिलाओं में सबसे अधिक सजने एवं संवरने की होड़ रहती है। पर्व के एक दिन पूर्व ब्यूटी पार्लरों में मेंहदी व मेकअप के लिए महिलाओं में मारामारी देखी गयी। उधर बाजार में भी महिलाआंे की जमकर भीड़ उमड़ी। श्रृंगार की दुकानों में लगी महिलाओं की भीड़ यह साबित कर रही थी कि पर्वों में महंगाई का कोई असर नहीं रहता। 

ब्यूटी पार्लर में मेंहदी लगवाती सुहागिन महिलाएं।

बताते चलें कि कल  करवाचौथ का पर्व समूचे जनपद में मनाया जायेगा। पर्व को लेकर महिलाओं द्वारा कई दिनों से तैयारियां की जा रही थी। सभी महिलाओं ने तैयारियां लगभग पूरी कर ली हैं सिर्फ सजने एवं संवरने का ही काम मंगलवार को पूरा दिन चला। शहर क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर खुले ब्यूटी पार्लरों पर महिलाओं की भीड़ देखी गयी। फेशियल, ब्लीचिंग, हेयर कटिंग के साथ-साथ आकर्षक मंेहदी लगवाने के लिए महिलाएं ब्यूटी पार्लर पहुंची। ब्यूटी पार्लर संचालकों ने महिलाओं के मनमुताबिक हाथ व पैर में मंेहदी सजाई। महिलाओं ने मेंहदी लगवाने के बाद उसकी फोटो भी सोशल मीडिया पर डाली। महिलाओं में पर्व को लेकर बेहद उत्साह नजर आ रहा है। मंगलवार को पूरा दिन बाजार में भीड़ उमड़ी। रेडीमेड कपड़ों के साथ-साथ कासमेटिक की दुकानों में श्रृंगार सामग्री की जमकर खरीददारी हुयी। उधर बैंगेल्स स्टोर में चूड़ी व कड़ा खरीदने वाली महिलाओं की लाइन भी दिखाई दी। चूड़ी विक्रेता ने बताया कि इस बार बाजार में कुछ नई वैरायटी तो नहीं है लेकिन पर्व के चलते वह अलग-अलग किस्मों की चूड़ी व कड़े लेकर आये हैं जो महिलाओं को अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं। बताया कि चूड़ी व कड़े में लाकडाउन के बाद से महंगाई की थोड़ी मार भी है इसके बावजूद बिक्री में कोई कमी नहीं है। महिलाओं में भी अब बेसब्री से करवाचैथ की शाम का इंतजार है। सुहागिन महिलाएं अपने पति की दीर्घायु के लिए पूरा दिन आज व्रत रहंेगी और शाम को चांद का दीदार कर पूरे विधि-विधान के साथ पूजा-अर्चना कर व्रत खोलेंगी। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages