नर कंकाल केस का एसओजी व पुलिस द्वारा किया गया सनसनीखेज खुलासा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, November 30, 2020

नर कंकाल केस का एसओजी व पुलिस द्वारा किया गया सनसनीखेज खुलासा

हत्या करने वाले 02 अभियुक्त मोटरसाईकिल सहित गिरफ्तार  , 14 माह  बाद खुलासा  

कलयुगी पति व जेठ ने ही की थी हत्या, अवैध सम्बन्धों का था शक 

शव क्षत-विक्षत हालत में ग्राम भदेसरा के पास खेत में मिला था  

एसएसपी को निरीक्षण के दौरान मामला आया था सामने 

 फ़िरोज़ाबाद, विकास पालीवाल  ।  20 सितम्बर 2019  को ग्राम भदेसरा, थाना सिरसागंज में बचान सिंह के बाजरा खेत में एक अज्ञात कंकाल क्षत-विक्षत हालत में पडा़ हुआ मिला था । उपरोक्त कंकाल की शिनाख्त हेतु पुलिस द्वारा सोशल मीडिया वं अन्य माध्यमों से शिनाख्त के काफी प्रयास किये गये किन्तु पहचान ना हो पाने के कारण विवेचक द्वारा शव के सुराग जारी रखते हुये 08 मार्च  को विवेचना में फाईनल रिपोर्ट लगाई जा चुकी थी ।एसएसपी द्वारा थाना शिकोहाबाद पर निरीक्षण के दौरान मामला संज्ञान में आया, जिस पर जांचकर्ता द्वारा कोई भी कार्यवाही नहीं की गयी थी । वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा तत्काल संज्ञान लेते हुये अपर पुलिस अधीक्षक ( ग्रामीण ) राजेश कुमार के नेत्रत्व में उक्त महिला की तलाश हेतु एसओजी व सर्विलान्स सैल को निर्देशित किया गया था जिसमें टीम द्वारा  पूरा प्रयास व सुरागरसी करते हुये ज्ञात हुआ कि थाना सिरसागंज पर पंजीकृत  मुकद्दमा से सम्बन्धित एक अज्ञात महिला का पोस्टमार्टम कराया गया था जिसमें टीम द्वारा महिला के कंकाल से प्राप्त ताबीज व अन्य सामान को थाना शिकोहाबाद पर पंजीकृत एनसीआर 117/2019 से सम्बन्धित लड़की मूर्ति देवी के पिता  जीतपाल सिंह को दिखवाया गया।


       पुलिस लाइन सभागार में आयोजित वार्ता में एसएसपी सचिंद्र पटेल ने बताया कि  शिनाख्त कराने पर मूर्तिदेवी के पिता जीतपाल द्वारा ताबीज व अन्य सामान की पहचान अपनी पुत्री मूर्ति देवी का होना बताया गया जिस आधार पर थाना सिरसागंज व एसओजी टीम द्वारा घटना से सम्बन्धित सन्दिग्ध प्रतीत हो रहे लोगों से पूछताछ की जाने लगी,  लेकिन पूछताछ हेतु कई बार बुलाने के बाद भी मृतिका मूर्तिदेवी का पति अर्जुन व जेठ उदयवीर पुलिस के सामने नहीं आये तो पुलिस का सन्देह और मजबूत हो गया। जिसमें सर्विलान्स सैल की मदद ली गयी सर्विलान्स की मदद से ये बात सामने आयी कि मृतिका के पति व जेठ द्वारा ही घटना  की गई है। सोमवार  को सुबह  शोथरा चौराहा फ्लाई ओवर से मृतिका मूर्तिदेवी के पति अर्जुन व जेठ उदयवीर पुत्रगण श्याम सिंह, निवासी ग्राम मोहनीपुर, थाना शिकोहाबाद, फिरोजाबाद। को पुलिस हिरासत में लिया गया जिनसे  पूछताछ की गई,  तो उक्त दोनों व्यक्तियों द्वारा  मूर्तिदेवी की हत्या गला दबाकर किया जाना व शव की शिनाख्त न हो सके, इसके लिए कपडों को मौके पर ही जला दिया जाना बताया गया। घटना के पीछे अपनी पत्नी मूर्ति देवी का अवैध सम्बन्ध सौरभ नाम के लड़के से होना बताया गया। साथ ही थाना शिकोहाबाद पर  पत्नी का किसी सौरभ नाम के लड़के के साथ भाग जाने की एनसीआर पंजीकृत करा दी गई। दोनों व्यक्तियों द्वारा हत्या में प्रयुक्त अपने पडो़सी की मोटर साईकिल व गमछा को भी बरामद कराया गया है। गिरफ्तार करने वाली टीम में  सिरसागंज प्रभारी निरीक्षक गिरीश चन्द्र गौतम, प्रभारी एसओजी कुलदीप सिंह, उ0नि0 रनवीर सिंह, राहुल यादव,  रविन्द्र कुमार, भगत सिंह,  नदीम खाॅन ( सभी एसओजी),  विजय कुमार,  कुलदीप,  आशीष शुक्ला, मुकेश कुमार थे। घटना के खुलासे हेतु एसएसपी द्वारा टीम को 25,000 के  नगद पुरूस्कार की घोषणा की गई है ।  वार्ता के दौरान एसपी ग्रामीण राजेश कुमार, सीओ इंदूप्रभा सिंह , एसओजी प्रभारी  कुलदीप सिंह, गिरीश चंद्र  मौजूद रहे ।  


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages