टूंडला में शांतिपूर्ण ढंग से हुआ मतदान, कम लोग ही निकले वोट डालने - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, November 3, 2020

टूंडला में शांतिपूर्ण ढंग से हुआ मतदान, कम लोग ही निकले वोट डालने

सुरक्षा व्यवस्था के रहे पुख्ता इंतजाम , डीएम , एसएसपी भी घूमते रहे क्षेत्र में 

एडीजी तथा आईजी ने भी लिया केंद्रों पर पर जायजा 

शाम 5 बजे तक हुआ 49 फीसदी मतदान   

फिरोजाबाद, विकास पालीवाल  । फिरोजाबाद जिले की टूंडला सीट पर हो रहे उपचुनाव का मतदान आज मंगलवार को सुबह 7 बजे से आरंभ हो गया, जो शाम 6 बजे तक जारी रहा । शुरुआत में एक दो जगह मशीन चलने में कुछ परेशानी आई, लेकिन तुरंत ईवीएम मशीनों को इंजीनियरों ने पहुंचकर चालू कर दिया । वही 4 गांव में मूलभूत सुविधाओं को लेकर लोगों ने कार्य बहिष्कार मतदान बहिष्कार कर दिया । मतदान बहिष्कार की जानकारी मिलते ही प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया तथा प्रशासनिक अधिकारी तुरंत उन गावों में पहुंच गए तथा लोगों को काफी समझाया बुझाया । जिसके बाद मतदान प्रारंभ हो सका । इधर शाम 3 बजे तक करीब 40 फ़ीसदी मतदान हो सका। मतदान प्रक्रिया धीमी रहने से इस बार मतदान प्रतिशत पर असर पड़ा है । शाम 5 बजे तक 49 प्रतिशत मतदान हुआ । 

   


     फिरोजाबाद जिले की टूंडला विधानसभा के हो रहे उपचुनाव के लिए आज मंगलवार को मतदान प्रक्रिया संपन्न हुई । विधानसभा क्षेत्र के 558 बूथों पर मतदान कर्मियों द्वारा मतदान कराया गया । मतदान केंद्रों पर आने वाले मतदाताओं की सबसे पहले थर्मल स्क्रीनिंग की गई तथा उन लोगों को मास्क एवं सेनीटाइज करने के बाद ही अंदर तक भेजा जा रहा था।  वही केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग रखने के लिए गोले बनाए गए थे । मतदान केंद्रों पर मौजूद पुलिसकर्मियों द्वारा लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के हिसाब से ही खड़े होने की बात कही जा रही थी । इस चुनाव में 360411 कुल मतदाता थे । 

     


 इधर क्षेत्र की 4 पोलिंग सेंटरों पर मतदाताओं द्वारा सुबह से ही मूलभूत सुविधाओं को लेकर मतदान का बहिष्कार कर दिया । मतदान बहिष्कार की जानकारी मिलते ही प्रशासनिक अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए ।  प्राथमिक विद्यालय कछपुरा में बने मतदान केंद्र पर ग्रामीणों ने मतदान  का बहिष्कार कर दिया । मतदान बहिष्कार के बाद सिटी मजिस्ट्रेट कुवर पंकज सिंह तथा एसपी ग्रामीण राजेश कुमार दलबल के साथ पहुंचे तथा लोगों से उनकी सुविधाएं के अलावा मरघट की समस्या को हल कराने का आश्वासन दिया ।  लेकिन ग्रामीण इस आश्वासन से संतुष्ट नहीं दिखे । जिसके बाद काफी अनुनय विनय के बाद करीब 1 बजे के बाद मतदान प्रक्रिया शुरू हो सकी। यहां पर करीब 6 घंटे तक मतदान प्रक्रिया बाधित रही । इसके अलावा ग्राम रूधऊ में भी मतदान बहिष्कार किया गया । यहां पर शाम तक मतदान प्रक्रिया बाधित थी । वहीं दो अन्य मतदान केंद्रों पर भी मतदान बहिष्कार किया गया था, जिसके बाद उन पोलिंगों पर अधिकारियों के आश्वासन पर मतदान शुरू हो सका ।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages