गायत्री मिशन को जन-जन तक पहुंचाएं: त्रिपाठी - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, November 10, 2020

गायत्री मिशन को जन-जन तक पहुंचाएं: त्रिपाठी

जिला व ब्लाक समन्वय समितियों का हुआ गठन

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। गायत्री परिवार उप जोन की जिला स्तरीय गोष्ठी गायत्री प्रज्ञा पीठ कर्वी में संपन्न हुई। जिसका मुख्य उद्देश्य जनपद में संगठन के क्रम में जिला समन्वय समिति सहित ब्लॉक समन्वय समितियों का गठन रहा। 

गोष्ठी में शांतिकुंज से आए रामयश तिवारी उत्तर जोन के समन्वयक, संध्या तिवारी, डॉ राम नारायण त्रिपाठी व्यवस्थापक गायत्री शक्तिपीठ, राम मिलन पाठक उप जोन समन्वयक आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे। शांतिकुंज प्रतिनिधि रामयश तिवारी ने कहा संगठन के बिना कोई काम संभव नहीं है। साधना के धनी व्यक्ति ही संगठन में सजीव भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने संगठन के उद्देश्य पर चर्चा करते हुए कहा कि संगठन के माध्यम से मंडलों का गठन हो। सब यज्ञीय जीवन जिऐं। साप्ताहिक कार्यक्रम चलाएं। समूह साधना पर जोर देते हुए कहा कि समूह के साथ की गई साधना ही परिवर्तनकारी होती है। चित्रकूट अश्वमेध यज्ञ के बाद समाज में परिवर्तन आना चाहिए था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अनीतियों का ग्राफ काफी बढ़ गया। यह एक सोचनीय प्रश्न है। शांतिकुंज से आईं संध्या


तिवारी ने कहा जब स्वयं को नहीं दूसरे को दिखे तभी मानना चाहिए कि सफलता मिल रही है। समाज कितना पीछे चला जा रहा है। नशा उन्मूलन का जितना प्रचार प्रसार दिख रहा है उसके उलट नशा किसी न किसी रूप में कई गुना बढ़ा हुआ है और समाज गर्त में जा रहा है। उन्होंने सूत्र दिया की अच्छाई दूसरों में देखें और बुराई अपने में देखें। उन्होंने उपासना, साधना, आराधना का जीवंत चित्रण किया। डा .राम नारायण त्रिपाठी ने मिशन के उद्देश्यों को जन जन तक पहुंचाने के लिए कहा कि मिशन के उन कार्यकर्ताओं की खोज करें जो मिशन में पहले से जुड़े हैं, लेकिन सुसुप्त अवस्था में हैं। उन्होंने कहा शिक्षण प्रशिक्षण की जरूरत पड़ी तो गायत्री शक्तिपीठ में इसके लिए सब सुविधाएं उपलब्ध हैं और सदैव तत्पर रहेंगे। सौभाग्यशाली हैं जो भगवान का काम करने को मिल रहा है। इस सौभाग्य को किसी को छोड़ना नहीं चाहिए। उप जोन समन्वयक राममिलन पाठक के अथक प्रयास से पूरे जनपद में संगठन का काम तेजी से बढ़ा है। सर्वसम्मति से जिला समन्वय समिति का गठन किया गया। भवानीदीन यादव को जिला समन्वयक, दिनेश कुमार को उप समन्वयक सहित जिला समिति सदस्य प्रमोद कुमार पटेल, राम लखन केसरवानी, विमला सिंह, सुधा तिवारी, पुष्पा शर्मा, नीलम श्रीवास्तव, शिव भवन तिवारी, रामसेवक त्रिपाठी, डॉ राजकुमार द्विवेदी को बनाया गया। भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा संयोजक कमलेश यादव, संस्कार प्रकोष्ठ श्रवण कुमार गुप्त, बाल संस्कार शाला प्रकोष्ठ सुधा तिवारी, युवा प्रकोष्ठ प्रमोद कुमार पटेल, रचनात्मक प्रकोष्ठ बिहारी लाल गुप्त एवं समयदान प्रकोष्ठ प्रभारी डॉ राम नारायण त्रिपाठी को बनाया गया है। ब्लॉक समन्वयक में कर्वी से प्रमोद कुमार पटेल ,पहाड़ी से दिनेश कुमार, मानिकपुर से शिव भवन तिवारी, मऊ से रामसेवक त्रिपाठी, रामनगर से राम लखन केसरवानी बनाए गए। प्रत्येक ब्लॉक स्तरीय सदस्य 30 सदस्यों का एक मंडल बनाएगा। इसके साथ ही प्रज्ञा मंडल, युवा मंडल, महिला मंडल ,संस्कृति मंडल आदि विभिन्न मंडलों का गठन किया जाएगा। यह संगठन समाज में गायत्री परिवार के उद्देश्यों से लोगों को जोड़ने का काम करेगा। मनुष्य में देवत्व का उदय और धरती पर स्वर्ग का अवतरण जो मिशन का मुख्य उद्देश्य है उस पर काम करेगा। व्यक्ति निर्माण, परिवार निर्माण, समाज निर्माण, राष्ट्र निर्माण के मिशन पर काम करेगा। मिशन विचार क्रांति अभियान जो गुरुदेव पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य का संकल्प है उस पर काम करेंगे। गोष्ठी में चुन्नीलाल विश्वकर्मा, पंकज अग्रवाल व्यापार मंडल अध्यक्ष, राजेश कुमार श्रीवास्तव, रंजना खरे, राम मिलन यादव, भोला सिंह, अंशु विश्वकर्मा, पुष्पा श्रीवास्तव, सविता तिवारी, गायत्री यादव, राहुल नंदन मिश्र, बाला प्रसाद गुप्त, दिनेश साहू, बृजेश कुमार श्रीवास्तव, रामनरेश आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages