‘पंजीकरण के बाद ही की जाए वाहन की डिलीवरी’ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Monday, November 9, 2020

‘पंजीकरण के बाद ही की जाए वाहन की डिलीवरी’

डीएम ने परिवहन विभाग की आनलाइन सेवाओं के संबंध में बैठक कर दिए निर्देश

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में परिवहन विभाग की ऑनलाइन सेवाओं के संबंध में संबंधित अधिकारियों व डीलर्सो के साथ बैठक संपन्न हुई।

जिलाधिकारी ने डीलर्सो से कहा कि शासन ने जन सुविधा को देखते हुए डीलर्स प्वाइंट रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया ऑनलाइन की है। जिसका लाभ उठाएं। योजना के अंतर्गत व्यावसायिक व गैर व्यावसायिक वाहनों के पंजीयन को डिजिटल सिग्नेचर सहित डॉक्युमेंट्स अपलोड करने की सुविधा लागू की गई है। अब कार्यालय में भौतिक पत्रावली लाने की आवश्यकता नहीं है। वाहन विक्रेताओं को नए ट्रेड सर्टिफिकेट व नवीनीकरण की ऑनलाइन सुविधा लागू

बैठक में निर्देश देते डीएम।

की गई है। जिसमें पंजीयन पुस्तिका की द्वितीय प्रति, पंजीयन पुस्तिका में पता परिवर्तन, हाइपोथिकेशन पृष्ठांकन, हाइपोथिकेशन निरस्तीकरण, पंजीयन पुस्तिका का नवीनीकरण, स्वामित्व अंतरण तथा अनापत्ति प्रमाण पत्र शामिल है। नए परमिट की द्वितीय प्रति एवं शादी ब्याह के अवसर पर जारी होने वाले स्पेशल परमिट जारी करने की एंड टू एंड अवस्था लागू की गई है। जिसमें भी कार्यालय आने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि वाहनों की पंजीयन पुस्तिका, स्वस्थता प्रमाण पत्र, परमिट एवं ड्राइविंग लाइसेंस का ऑनलाइन प्रिंट प्राप्त करने की भी सुविधा उपलब्ध कराई गई है। वाहनों के प्रति प्रदूषण मुक्त प्रमाण पत्र जारी करने को प्रदूषण केंद्र स्थापित करने के लिए नए आवेदन व नवीनीकरण आदि की ऑनलाइन सुविधा भी जनपद में  लागू की गई। वाहन एवं सारथी संबंधी 25 सेवाएं दर्पण पोर्टल पर प्रदर्शित की जाएंगी। आवेदक स्तर पर ड्रिलडाउन सुविधा उपलब्ध है। समस्त सेवाएं जनहित गारंटी अधिनियम के अंतर्गत सम्मिलित है कार्यों के निस्तारण की अवधि सात कार्य दिवस निर्धारित किए गए हैं। ड्राइविंग लाइसेंस संबंधी विभिन्न सेवाओं के आवेदकों की सुविधा के लिए जनपद स्तरीय लागू की है। उन्होंने सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी सुरेश चंद यादव को निर्देश दिए कि डीलर्स के साथ प्रत्येक माह समीक्षा अवश्य की जाए। ऑनलाइन सेवाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार कराएं। कॉल सेंटर हेल्प लाइन में की गई शिकायतों का तत्काल निस्तारण सुनिश्चित करें। ड्राइविंग लाइसेंस के लिए जन सुविधा केंद्रों पर भी व्यवस्था लागू की जाए। कहां की एचएसआरपी में जो समस्याएं आ रही हैं उसका समय से अनुपालन सुनिश्चित हो। सभी डीलर्स डिजिटल सिगनेचर अवश्य फीड करा लें। जिलाधिकारी ने डीलर्सो से कहा कि वाहन का पंजीकरण जब तक न हो जाए तब तक वाहन की डिलीवरी न करें। उन्होंने कहा कि जो शासन से दिशा निर्देश दिए गए हैं उसका पालन कराया जाए। कोई समस्या हो तो परिवहन विभाग से संपर्क कर निस्तारण कराएं। बैठक में अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी सुरेश चंद्र यादव, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी प्रशासन प्रदीप कुमार सहित संबंधित अधिकारी व डीलर्स मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages