6 माह में महिलाओं को बनाएं आत्मनिर्भर: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, November 5, 2020

6 माह में महिलाओं को बनाएं आत्मनिर्भर: डीएम

मिशन शक्ति के तहत प्रत्येक माह वृहद आयोजन व महिला स्वावलम्बन की कार्य योजना तैयार करने के दिए निर्देश

अच्छा कार्य करने पर होंगें सम्मानित

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत नारी सुरक्षा, नारी सम्मान, नारी स्वावलंबन के संबंध में संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।

जिलाधिकारी ने कहा कि गत माह के अभियान में सभी विभागों ने अच्छे कार्यक्रम आयोजित कराए थे। इस माह भी 15 नवंबर तक की अवधि में जो विशेष अभियान चलाया गया है प्रत्येक विभाग द्वारा पूर्व की भांति कार्यक्रम आयोजित कराकर फोटोग्राफ्स व वीडियो सहित अपर मुख्य सचिव गृह व सूचना के ईमेल आईडी पर समय से भेजना सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि अगले छह माह की कार्य योजना पांच दिन के अंदर बना कर जिला प्रोबेशन अधिकारी को उपलब्ध कराएं तथा प्रत्येक माह एक बड़ा कार्यक्रम महिला

बैठक में निर्देश देते डीएम।

शक्ति के अवश्य कराया जाए। ताकि अधिक से अधिक लोगों को जागरूक किया जा सके। डीसी एनआरएलएम राम उदरेज यादव को निर्देश दिए कि जनपद स्तर पर एक वृहद कार्यक्रम कराएं तथा महिलाओं ने जो अच्छा कार्य किया है उन्हें सम्मानित भी कराया जाए। इसी प्रकार ब्लॉक स्तर पर भी कार्यक्रम आयोजित कराएं। जिला प्रोबेशन अधिकारी रामबाबू विश्वकर्मा को निर्देश दिए कि सभी विभागों से सूचना प्राप्त कर कार्यक्रमों की सूचना शासन को भेजें। सभी विभाग कार्य योजना बनाकर जिला प्रोबेशन अधिकारी को दें। कहा कि जो भी कार्यक्रम कराएं उसमें कोविड-19 का पालन अवश्य कराया जाए। इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही न की जाए। उपायुक्त जिला उद्योग केंद्र को निर्देश दिए कि अभियान चलाकर छह माह के अंदर महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की कार्य योजना तैयार करें। अधिक से अधिक लाभान्वित कराया जाएं। इसी प्रकार मनरेगा में अधिक से अधिक रोजगार दें। जिला युवा कल्याण अधिकारी हरीश कुमार को निर्देश दिए कि गांव में महिला युवक मंगल दल को गांव पर बढ़ावा दें। सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित कराए जाएं। जिला विद्यालय निरीक्षक तथा जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि ब्लाक संसाधन स्तर पर कार्यक्रम कराएं तथा एक बड़ा कार्यक्रम जिला स्तर पर भी हो। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार से कहा कि महिलाओं के स्वास्थ्य को लेकर किशोरियों को जागरूक करने में विभाग की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका है। महिलाओं के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए कार्यक्रम आयोजित कराएं। मुख्य विकास अधिकारी से कहा कि जनपद की 100 महिलाओं का चयन कर जो अच्छा कार्य किया है कार्यक्रम का आयोजन कर उन्हें सम्मानित कराएं। उन्होंने परिवहन अधिकारी, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, अभियोजन, समाज कल्याण, अल्पसंख्यक, बाल विकास, ग्राम्य विकास, पंचायती राज, सहकारिता आदि विभिन्न विभागों के अधिकारियों को भी निर्देश दिए कि महिला जागरूकता के कार्यक्रम अधिक से अधिक करें। ताकि जनपद में महिला सुरक्षा, महिला सम्मान व स्वावलंबन के प्रति अधिक कार्य हो सके। अपर पुलिस अधीक्षक प्रकाश स्वरूप पांडेय ने बताया कि पुलिस विभाग एक से सात नवंबर तक एंटी रोमियो, महिला पुलिस द्वारा गांव गांव जाकर जागरूकता के कार्यक्रम किए जा रहे हैं। आठ नवंबर को परिवार परामर्श केंद्र के माध्यम से सुलह समझौते कराए जाएंगे। 9 से 11 नवंबर तक बैंको, विद्यालयों, महाविद्यालयों में जागरूकता कार्यक्रम होंगें। 12 से 16 नवंबर तक एंटी रोमियो टीमें भ्रमण कर जन जागरूकता कार्यक्रम करेंगी। जिलाधिकारी ने अपर पुलिस अधीक्षक से कहा कि जनपद, सर्किल व थानावार कार्यक्रम छह माह के बना लिए जाएं। बैठक में संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages