शाम को उतारना भूले, तो रात भर फैरता रहा राष्ट्रीय ध्वज - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, October 3, 2020

शाम को उतारना भूले, तो रात भर फैरता रहा राष्ट्रीय ध्वज

मामला ग्राम पंचायत बुढ़नपुरा के प्राथमिक विद्यालय का

माधौगढ़ (जालौन), अजय मिश्रा । दो अक्टूबर गांधी जयंती के पावन पार्व पर राष्ट्रीय ध्वज फैराया गया जिसको दिन अस्त होने के पूर्व ही उतारना था लेकिन जिम्मेदार उतारना भूल गये और तिरंगा अंधेरे के बीच रातभर फहराता रहा तहसील माधौगढ़ ग्राम बुढ़नपुरा के प्राथमिक विद्यालय में राष्ट्रीय ध्वज फैराया गया जिसको जिम्मेदार उतारना भूल गये और तिरंगा रात भर फहराता रहा विद्यालय के जिम्मेदार प्रधानाचार्य ने तिरंगे को रात फहराते तिरंगे को उतरवाना ठीक नही समझा सुबह लोगों की नजर तिरंगे पर पड़ी जिससे आस पास माहौल में शोर गुल शुरु हो गया नियमानुसार

प्राथमिक विद्यालय बुढ़नपुरा में लहराया राष्ट्रीय ध्वज।

तिरंगे को ध्वजारोहण के पश्चात उतारना चाहिए परंतु ध्वजारोहण करने वाले जिम्मेदार नियम को भूल गये जिसका परिणाम यह रहा कि राष्ट्रीय ध्वज सूर्यास्त के बाद भी नही उतरा गौरतलब हो कि भारतीय ध्वज संहिता में देश का राष्ट्रीय ध्वज को लेकर स्पष्ट नियम बनाये गये जिसमें राष्ट्रीय ध्वज, ध्वज का साइज, कपड़ा, स्थान से लेकर अन्य सभी नियम है इन्हीं नियमों मंे ध्वजारोहण के समय को लेकर भी स्पष्ट किया गया केवल विशेष अवसरों पर इसे रात में फहराया जा सकता है। परंतु घोर लापरवाही के चलते देश के गांधी जयंती जैसे महत्त्वपूर्ण अवसर पर राष्ट्रीय ध्वज का अपमान हो गया।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages