अवैध कब्जे की नोटिस मिलने पर कलेक्ट्रेट आये एकारी गांव के ग्रामीण - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, October 3, 2020

अवैध कब्जे की नोटिस मिलने पर कलेक्ट्रेट आये एकारी गांव के ग्रामीण

नोटिस निरस्त कर मकानों का नियमित स्वामित्व देने की उठायी मांग 

फतेहपुर, शमशाद खान । हस्वा विकास खण्ड के ग्राम एकारी में कुछ ग्रामीणों को अवैध कब्जा करके मकान बनाने की नोटिस मिलने पर सभी कलेक्ट्रेट आये और प्रदर्शन करते हुए बताया कि वह इस भूमि पर काफी समय से रहते चले आ रहे हैं। इसके बावजूद लेखपाल द्वारा उन्हें अवैध कब्जे की नोटिस थमा दी गयी है। जिससे वह सभी बेहद परेशान हैं। जिलाधिकारी से मांग किया कि नोटिस निरस्त कर मकानों का नियमित स्वामित्व दिया जाये। 


कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करते एकारी गांव के ग्रामीण।

एकारी गांव के ग्रामीणों ने नोटिस के विरोध में कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया तत्पश्चात जिलाधिकारी को दिये गये ज्ञापन में बताया कि वह सभी मजदूर, किसान व ग्रामीण खिलाड़ी है। उनका जमीन पर कब्जा बुजुर्गी है। उक्त आराजी पर आजादी के पूर्व से काबिज हैं। मकान बनाकर आराजी में रहते चले आ रहे हैं। मकानों का नवीनीकरण व मरम्मत भी की है। पिछले दिनों हल्का लेखपाल द्वारा संलग्नक नोटिसे प्राप्त हुयी। जिनमें सभी को अवैध कब्जेदार दिखाया गया है। जब उन्हंे नोटिस मिली तो वह सभी भयभीत होकर सहम गये हैं। अगर उनके मकान गिरवा दिये जायेंगे तो वह सभी बेघर हो जायेंगे। कहा कि अभी तक किसी अधिकारी ने किसी भी सरकार के कार्यकाल में उनके आवासों पर उंगली नहीं उठायी है लेकिन मौजूदा लेखपाल ने उनको नोटिस देकर अनावश्यक परेशानी में डाल दिया है। बताया कि वह सभी किसान व ग्रामीण खिलाड़ी है। इतना पैसा नहीं है कि वह दूसरी जमीन खरीदकर मकान बनवा सके। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से मांग किया कि संविधान के मौलिक अधिकारों की रक्षा करते हुए जनहित में उक्त नोटिस को निरस्त करते हुए मकानों मंे नियमित स्वामित्व देने का आदेश एवं निर्देश दिया जाये। इस मौके पर रजोली, राजू साहू, कमलेश कुमारी, दुर्गा प्रसाद लोधी, प्रेमचन्द्र साहू, राम दुलारी, हरिश्चन्द्र, ठाकुरदीन, फूलचन्द्र, रामचन्द्र, राजकरन, उदयभान सिंह, राम सिंह, राम सिंह, कैलाश, विमलेश, सुरेश, रितेश, चन्द्रशेखर, सियाराम, बुदान साहू, दिनेश कुमार आदि मौजूद रहे। 

 



No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages