जयंती पर सपाईयों ने किया सत्याग्रह आंदोलन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Friday, October 2, 2020

जयंती पर सपाईयों ने किया सत्याग्रह आंदोलन

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिले के विभिन्न दलों ने अलग-अलग स्थानों पर हाथरस व बलरामपुर में बेटियों के साथ हुई घटना को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। सौपे गए ज्ञापन में दोषियों को सख्त सजा की मांग की है।

शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देशन में मुख्यालय के पुरानी कोतवाली के बाहर जिलाध्यक्ष अनुज यादव की अगुवाई में सपाईयों ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी व देश के पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री की जयंती मनाई। इस अवसर पर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ हाथरस में बेटी के साथ हुई घटना को लेकर सत्याग्रह आंदोलन किया। जिलाध्यक्ष ने कहा कि आज देश व प्रदेश की हालत बिगड़ चुकी है। हाथरस में हैवानियत की शिकार बेटी का परिजनों की गैरमौजूदगी में अंतिम संस्कार प्रशासन ने कर दिया जो निंदनीय है। किसान विरोधी कानून के जरिए खेत मालिक की जगह खेत मजदूर बनाने की साजिश की जा रही है। पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं का दमन हुआ है। प्रदेश में ऐतिहासिक बेरोजगारी है। सपाईयों ने राष्ट्रपति से मांग किया कि पुलिस बरबरता पर अंकुश लगाया जाए। पूर्व विधायक वीर सिंह पटेल ने कहा कि जनता के हक की लडाई पार्टी लडती रहेगी। इस मौके पर महासचिव फराज खान, जगदीश यादव, रजनीश जोशी, नरेन्द्र यादव, गुलाब साहू, साहबलाल द्विवेदी, शेरा यादव, निजाम सिद्दीकी, रसीद उर्फ चीनी, अकील अहमद, ऋतुराज वर्मा, रेहान खान, रामसनेही निषाद, अनुज निगम आदि मौजूद रहे।

सत्याग्रह आंदोलन करते सपाई।

घटना की कराएं सीबीआई जांच

चित्रकूट। आभास महासंघ ने हाथरस व बलरामपुर की घटना के संबंध में राज्यपाल संबोधित जिलाधिकारी को सौपे गए सात सूत्रीय ज्ञापन में कहा कि घटनाओं की सीबीआई जांच कराई जाए। दोषियों को फांसी मिले। परिजनों को एक-एक करोड़ मुआवजा, सुरक्षा, नौकरी, लाइसेंस की व्यवस्था हो। प्रदेश में बेटियों के साथ हो रही बरबरता पर अंकुश लगे। प्रदेश सरकार को बर्खास्त कर राष्ट्रपति शासन लगाया जाए। इस मौके पर धर्मेन्द्र भास्कर, वीरेन्द्र भास्कर, कृष्ण कुमार वर्मा, दिनेश कुमार सनेही, प्रकाशचन्द्र, मान सिंह, प्रशांत कुमार, मनोजराज गौतम आदि मौजूद रहे। 

हैवानियत की शिकार बेटियों को मिले न्याय

चित्रकूट। प्रभास महासंघ के कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौपा। बेटियों के साथ हुई घटना की निंदा की गई। ज्ञापन में कहा कि दोषियों को कठोर कारावास की सजा दी जाए। त्वरित न्याय दिलाने के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामला चले। प्रदेश सरकार मृतका के परिजनों को मुआवजा दें। इस मौके पर तीरथ प्रसाद, अरुण कुमार, आशीष पटेल, विजय वर्मा, कुलदीप कुमार, दीपांशु, अनुज, सुधीर, अंशू आदि मौजूद रहे।

महिला-बेटियों का हो एक करोड़ का बीमा

चित्रकूट। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के पदेाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल संबोधित छह सूत्रीय ज्ञापन में कहा कि हाथरस व बलरामपुर में बेटियों के साथ हुई घटना शर्मसार करने वाली है। मांग किया कि दोषियों को कडी से कडी सजा दी जाए। मृतका के परिजनों को मुआवजा के साथ ही सुरक्षा प्रदान करें। महिलाओं व बच्चियों के एक करोड के बीमा हों। पीड़ित परिवार से मिलने से न रोका जाए। इस मौके पर जिलाध्यक्ष हरिमोहन सिंह यादव, संदीप कुमार, मनोज कुमार, पप्पू यादव, राममिलन यादव, सत्येन्द्र यादव आदि मौजूद रहे।

प्रदेश में लागू किया जाए राष्ट्रपति शासन

चित्रकूट। आम आदमी पार्टी पदाधिकारियों ने प्रदेश में बिगड़ी कानून व्यवस्था के संबंध में राष्ट्रपति संबोधित सौपे गए ज्ञापन में कहा कि सरकार को बर्खास्त कर राष्ट्रपति शासन लागू किया जाए। प्रदेश में बहन-बेटियां सुरक्षित नहीं है। आए दिन घटनाएं हो रही है। हाथरस में हुई घटना पर आठ दिन तक एफआईआर नहीं दर्ज की गई जो चिंतनीय है। परिजनों को मृतका का शव नहीं सौपा गया। ज्ञापन में घटना की सीबीआई जांच की मांग की है। इस मौके पर जिलाध्यक्ष संतोषीलाल शुक्ला, श्यामबाबू त्रिपाठी, कुबेर प्रसाद, नर्बदा प्रसाद, लवलेश, सुमन विश्वकर्मा, रमाकांत गुप्ता, सूरज श्रीवास्तव, बबलू रैकवार, प्रेमचन्द्र गुप्ता, गया पाल आदि मौजूद रहे। इसी क्रम में मऊ तहसील में विधानसभा प्रभारी अविनाशचन्द्र त्रिपाठी, कमलेश सिंह पटेल दर्जनों कार्यकर्ताओं के साथ हाथरस की घटना को लेकर राष्ट्रपति संबोधित ज्ञापन तहसीलदार को सौप कर सरकार को बर्खास्त करने की मांग की। इस मौके पर संतोष त्रिपाठी, आशीष त्रिपाठी, मदनलाल जाटव, जुगुलकिशोर, मनोज सिंह, दिनेश पटेल, रोहित सिंह आदि मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages