कानूनी प्राविधानों की जानकारी ही एक मात्र बचाव - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, October 23, 2020

कानूनी प्राविधानों की जानकारी ही एक मात्र बचाव

केसीएनआईटी में हुआ ‘मिशन शक्ति’ के तहत परिचर्चा का आयोजन

बांदा, के एस दुबे । निदेशक महिला कल्याण उत्तर प्रदेश द्वारा निर्देशित एवं एकेटीयू द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के आधार पर 17 से 25 अक्टूबर तक आयोजित विषेष अभियान ‘मिशन शक्ति’ के अन्तर्गत केसीएनआईटी में फेसबुक लाइव के माध्यम से महिला सशक्तिकरण के लिए कानूनी प्राविधान, विषय पर परिचर्चा का आयोजन किया गया। इसमें देहरादून निवासी, उच्चतम न्यायालय की सीनियर एडवोकेट अंजना साहनी मुख्य वक्ता थीं। इस परिचर्चा में श्रीमती साहनी जी ने पाक्सो कानून के अन्तर्गत बच्चों को यौन हिंसा से बचाव, पुनर्वास तथा हिंसा करने पर मिलने वाले दण्ड के प्रावधानों पर प्रकाश डाला। साथ ही घरेलू हिंसा तथा देहज कानून के अन्तर्गत महिलाओं के प्रति होने वाली हिंसा से बचाव एवं कन्या भ्रूण हत्या रोकने हेतु पीसीपीएनडीटी कानून के अन्तर्गत विभिन्न दण्ड के प्राविधानों पर विस्तार से चर्चा की। 


प्रमाण पत्रों के साथ मेधावी छात्र

इस परिचर्चा के माध्यम से संस्थान में अध्यनरत छात्राओं एवं महिला स्टाफ को संविधान द्वारा प्रदत्य अधिकारों के प्रति जागरूक किया गया। उन्होंने कहा कि यदि हम कानूनी प्रावधानों की जानकारी रखेंगे, तभी हम अपना बचाओ कर सुरक्षित रह सकते हैं। इस परिचर्चा में विद्यावती मेमोरियल पब्लिक स्कूल की प्रधानाचार्या संगीता लमगोरा, स्कूल की अकादमिक समन्वयक सुनीता गुप्ता और कु. खुशबू यादव, केसीएनआईटी संस्था के कम्प्यूटर सांइस विभाग की सहायक प्रोफेसर कु. प्रीति गुप्ता, इलेक्ट्रानिक्स और संचार विभाग की सहायक प्रोफेसर श्रुति गुलाटी, मिनी अवस्थी ने अपनी सहभागिता दी। केसीएनआईटी संस्था में शिक्षा प्राप्त कर चुके पूर्व मेधावी छात्रओं उनके द्वारा महिला सशक्तिकरण के लिए किये गये कार्यों के लिए सम्मानित किया गया। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages