अभियान में पुलिस की महती भूमिका: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Saturday, October 17, 2020

अभियान में पुलिस की महती भूमिका: डीएम

महिला व बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान के संबंध में हुई बैठक

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय, पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल, जनपद नोडल अधिकारी वंदना त्रिपाठी की उपस्थिति में पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सभागार में महिला तथा बालिकाओं की सुरक्षा व सम्मान के संबंध में बैठक की गई।

जिलाधिकारी ने प्रशासनिक अधिकारियों व थानाध्यक्षों को निर्देश दिए कि महिला शक्ति स्वावलंबन अभियान की शुरुआत की गई है। इस अभियान में पुलिस की महती भूमिका है। थानाध्यक्ष महिला सशक्तिकरण अभियान पर कार्यक्रम से जन जागरूकता करें। संबंधित उप जिलाधिकारियों को भी शामिल किया जाए। अराजकतत्वों पर विशेष नजर रखें। छोटी सी छोटी घटना पर तत्काल कार्यवाही हो। उप जिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी व थानाध्यक्ष गंभीरता के साथ कार्य करें। कहा कि हल्का इंचार्ज,  बीट का सिपाही व हल्का लेखपाल अगर सख्ती से कार्य करें तो कोई भी घटना गांव पर नहीं हो सकती है। इन्हें सक्रिय किया जाए। पूरे क्षेत्र में महिला सशक्तिकरण का अभियान चलाकर प्रचार प्रसार कराएं। कोई भी व्यक्ति या महिला आवेदन पत्र लेकर आए तो उसकी सुनवाई

बैठक में निर्देश देते डीएम, एसपी, नोडल अधिकारी।

अवश्य करें। इस अभियान के साथ छह माह की कार्य योजना बनाकर कार्य होना चाहिए। त्योहारों को सकुशल संपन्न कराया जाए। पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल ने कहा कि मिशन शक्ति का कार्यक्रम छह माह तक चलेगा। सभी थानों पर एंटी रोमियो प्रचलित है। महिलाओं की जो 112, 1090, 1076 टोल फ्री नंबर है उनका भी प्रचार-प्रसार कराया जाए। थानाध्यक्ष अभियान चलाकर अधिक से अधिक प्रचार प्रसार कराएं। अराजक तत्वों के खिलाफ कार्यवाही की जाए। कार्यक्रमों के फोटोग्राफ्स के साथ एक फाइल अवश्य बनाएं। जनपद नोडल अधिकारी वंदना त्रिपाठी ने थानाध्यक्षों से कहा कि क्षेत्र में कानून व्यवस्था को देखते हुए एंटी रोमियो को सक्रिय किया जाए। महिला हेल्प डेस्क थाना पर बनें। जहां पूजा पंडाल, रामलीला आदि कार्यक्रम हो रहे हैं उसमें एंटी रोमियो की टीम जाकर महिला व बालिका स्वावलंबन की जानकारी अवश्य दें। क्षेत्र में अगर कोई घटना होती है तो तत्काल उस पर कार्यवाही की जाए। तत्पश्चात क्राइम, अभियोजन, कानून व्यवस्था आदि की समीक्षा बैठक की। कहा कि अवैध खनन व परिवहन पर सख्त कार्यवाही करें। सड़क व चैराहों पर मूर्तियां न स्थापित करें। बिना मास्क पहने लोगों का अधिक से अधिक चलान कराया जाए। जहां पर रामलीला संचालित हो रही हैं तो वहां पर अधिक भीड़ न हो। उन कमेटी के सदस्यों से शपथ पत्र अवश्य लें। एसपी ने कहा कि सतर्क दृष्टि रखकर कार्यक्रम आयोजित कराए जाएं। देवी पंडालों के आयोजकों से संपर्क कर महिला सशक्तिकरण के कार्यक्रम को कराकर जन जागरूक करें। बैठक में संबंधित अधिकारी, थानाध्यक्ष व शासकीय अधिवक्ता मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages